GLIBS

दुष्कर्म पीड़िता के पिता ने कोर्ट में कहा, आसाराम बापू को जमानत मिलने से हमें जान का खतरा

दुष्कर्म पीड़िता के पिता ने कोर्ट में कहा, आसाराम बापू को जमानत मिलने से हमें जान का खतरा

नई दिल्ली/रायपुर। दुष्कर्म पीड़िता के पिता ने जेल में बंद आसाराम बापू की जमानत का विरोध करते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। अधिवक्ता के माध्यम से दायर याचिका में दावा किया गया है कि आसाराम बापू अत्यधिक प्रभावशाली हैं। पीड़िता के पिता ने अपनी याचिका में कहा है कि आसाराम बापू ने हत्यारे कार्तिक हलदर को हायर किया था, जिसने चश्मदीदों को मार डाला और हमला किया। उसने पुलिस के सामने कबूल किया कि बापू ने हत्या करने के आदेश दिए थे। पीड़िता के पिता ने अपनी याचिका में दलील दी कि सुनवाई के दौरान उसे और उसके परिवार के सदस्यों को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई। याचिका में पीड़िता के पिता ने दावा करते हुए कहा है कि 10 चश्मदीदों पर हमला किया जा चुका है और उनमें से तीन लोगों की मौत हो चुकी है। आशंका जताई गई है कि अगर आसाराम बापू को जमानत दी जाती है तो वह दुष्कर्म पीड़िता और उसके परिवार से बदला लेगा। याचिका में कहा गया है कि किराए के हत्यारे हलदर ने पुलिस के सामने कबूल कर लिया है कि उसने आसाराम बापू के आदेश पर प्रमुख प्रत्यक्षदर्शी अखिल गुप्ता को गोली मार दी थी और उत्तर प्रदेश पुलिस ने अभी तक उससे पूछताछ या गिरफ्तार नहीं किया है। याचिका में जमानत का पुरजोर विरोध करते हुए कहा गया है कि आसाराम बापू उनकी बेटी और परिवार के सदस्यों को मार सकता है। नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम बापू ने हाल ही में राजस्थान हाईकोर्ट द्वारा जमानत अर्जी खारिज किए जाने के बाद एक आयुर्वेद केंद्र में इलाज के लिए जमानत की मांग करते हुए शीर्ष अदालत का रुख किया है। राजस्थान सरकार ने भी जमानत का विरोध करते हुए कहा है कि आसाराम बापू इलाज कराने की आड़ में अपनी हिरासत की जगह बदलना चाहता है

ताज़ा खबरें

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.