GLIBS

रायपुर स्मार्ट सिटी परामर्शदात्री समिति की हुई बैठक,जोनल और मास्टर प्लान से दूरगामी योजनाओं पर फोकस

रविशंकर शर्मा  | 31 Aug , 2020 10:50 PM
रायपुर स्मार्ट सिटी परामर्शदात्री समिति की हुई बैठक,जोनल और मास्टर प्लान से दूरगामी योजनाओं पर फोकस

रायपुर। स्मार्ट सिटी परियोजना के अंतर्गत परामर्शदात्री समिति की बैठक में सोमवार को रायपुर के समग्र विकास के लिए जोनल व मास्टर प्लान तैयार कर दूरगामी कार्य योजनाओं के निर्धारण का सुझाव दिया गया। रेड क्रॉस भवन सभाकक्ष में हुई बैठक में स्मार्ट सिटी के एमडी सौरभ कुमार ने प्रस्तावित, वर्तमान में संचालित और पूर्ण हुई कार्ययोजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। महापौर एजाज ढेबर ने स्कूलों के जीर्णोद्धार को उचित बताते हुए शासकीय स्कूलों की ओर छात्र-छात्राओं को आकृष्ट कराने सम्यक पहल पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि 3 शासकीय स्कूलों का अंग्रेजी माध्यम में गुणवत्तायुक्त कायाकल्प से अब शासकीय स्कूलों को नई दिशा मिलेगी। बूढ़ातालाब सहित अन्य तालाबों के संरक्षण व संवर्धन को शहर की जरूरत बताते हुए उन्होंने सभी तालाबों के कायाकल्प कर आम लोगों को इससे जोड़ने की बात कही।

कलेक्टर डॉ.भारतीदासन ने स्मार्ट रोड, जॉगर्स पार्क, यातायात प्रबंधन जैसे विषयों के साथ शहर विकास गतिविधियों व उसके समग्र क्रियान्वयन पर विस्तार से अपने विचार रखें। पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने साइकिलिंग के प्रति बढ़ते रूझान के साथ ही सुरक्षित आवागमन के लिए भी विशेष प्रबंधों की चर्चा की। उन्होंने इसके लिए मार्ग संकेतक लगानें व लोगों को इस संबंध में सजगता बरतने सम्यक प्रयासों को जरूरी बताया। गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष व रायपुर उत्तर विधायक जुनेजा ने सड़कों के रख-रखाव के साथ स्मार्ट रोड नेटवर्क के तहत सड़कों के सौंदर्यीकरण व केबल को भूमिगत किए जाने की जरूरत बताई। मालवीय रोड, सदर बाजार, सत्ती बाजार क्षेत्र में सड़कों पर बिजली के तारों को भूमिगत किए जाने का सुझाव भी सदस्यों ने दिया है।   बैठक में आईआईटी के डायरेक्टर रजत मूना, आईआईआईटी के डायरेक्टर डॉ.प्रदीप कुमार सिन्हा, एनआईटी के डायरेक्टर डॉ. रवानी, आईआईएम से प्रो. स्मिथ गुप्ता, बंच आफ फूल्स के फाउंडर सतीश भुवालका, रविशंकर विश्वविद्यालय से अशोक प्रधान ने भी अपने बहुमूल्य सुझाव साझा किए।

सांसद सुनील सोनी ने कहा कि स्मार्ट सिटी योजनाओं के निर्धारण में वित्तीय संसाधन विकसित करने पर भी जोर दिया जाएगा। आवासीय परिसरों के विकास के दौरान व्यावसायिक उपयोग के अनुरूप विकसित कर वित्तीय संसाधन जुटाने के प्रयास भी किए जाएंगे। विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने सुझाव दिया कि, कलेक्टर कार्यालय को भी स्मार्ट सिटी मिशन के तहत विकसित कर कंपोजिट भवन के रूप में विकसित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अब विकास कार्यों के तहत बृहद संरचनात्मक निर्माण नगर सीमा के बाहरी क्षेत्रों की परिधि में भी किया जाना चाहिए। महापौर ढेबर ने ड्रेनेज सिस्टम को सुव्यवस्थित करने एरिया बेस्ड प्लान को जरूरी बताया और कहा कि स्थानीय जरूरतों के अनुरूप एरिया बेस्ड योजना से जलभराव की स्थिति को कम करने में सहायता मिलेगी। चर्चा के दौरान समिति के सदस्यों ने नगरीय क्षेत्र में शामिल 26 गांवों में भी उन्नत सेवाओं के विस्तार की जरूरत बताई। यह भी सुझाव दिया गया कि सभी विधानसभा क्षेत्र में न्यूनतम एक अस्पताल को स्थाई हॉस्पिटल के रूप में विकसित किया जाए। सदस्यों ने यूनिक डिजिटल डोर नंबर प्लेट लगाने की योजना को डाक विभाग से संबद्ध कर पिन कोड प्रणाली से जुड़ने की बात कही। एम्स के डायरेक्टर डॉ.नागरकर से मूलभूत चिकित्सा सेवाओं के साथ ही जल जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए प्राथमिकताएं निर्धारित करने पर विशेष जोर दिया।

बैठक के अंत में सभी सदस्यों के सुझावों के लिए सांसद सुनील सोनी ने आभार व्यक्त करते हुए विश्वास व्यक्त किया कि स्मार्ट सिटी मिशन व अन्य अनुषंगी संस्थाओं के साथ मिलकर नगरीय क्षेत्र में विकास योजनाओं का समग्र क्रियान्वयन तय किया जाएगा। शहर की विकास गतिविधियां देश में रोल मॉडल के तौर पर परिलक्षित होंगी। स्मार्ट सिटी मिशन के परामर्शदात्री समिति के सदस्य व सांसद सुनील सोनी की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में महापौर एजाज ढेबर, गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, विधायक बृजमोहन अग्रवाल, कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन, पुलिस अधीक्षक अजय यादव, रायपुर स्मार्ट सिटी लिमि. के एमडी सौरभ कुमार, एम्स रायपुर के डायरेक्टर नितिन एम. नागरकर, आईआईटी के डायरेक्टर रजत मूना, आईआईआईटी के डायरेक्टर डॉ. प्रदीप कुमार सिन्हा, एनआईटी के डायरेक्टर डॉ. रवानी, आईआईएम से प्रो. स्मिथ गुप्ता, बंच आफ फूल्स के फाउंडर सतीश भुवालका,रविशंकर विश्वविद्यालय से अशोक प्रधान शामिल हुए।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.