GLIBS

कोरोना से बचाव और सुरक्षा पहली प्राथमिकता: जयप्रकाश मौर्य

वैभव चौधरी  | 29 May , 2020 06:18 PM
कोरोना से बचाव और सुरक्षा पहली प्राथमिकता: जयप्रकाश मौर्य

धमतरी। जिले के नवपदस्थ कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने पदभार ग्रहण करने के दूसरे दिन शुक्रवार को सभी जिला स्तरीय अधिकारियों और ब्लॉक स्तर पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत वगैरह की वीडियो काॅन्फ्रसिंग के जरिए बैठक ली। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आहूत बैठक में कलेक्टर ने सभी अधिकारियों का औपचारिक परिचय लेते हुए अपना परिचय भी दिया। उन्होंने कहा कि वर्तमान हालात में उनकी प्राथमिकता कोविड-19 के संक्रमण से सुरक्षा के उपाय और बचाव होगा। सभी को अनावश्यक भीड़-भाड़ वाले स्थान में जाने से बचने, ऐसे स्थानों में मास्क का अनिवार्य उपयोग, सोशल डिस्टेंसिंग तथा नियमित रूप से हाथों की धुलाई पर जोर दिया। उन्होंने कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के  लिए सामुदायिक सर्वेलेंस पर जोर दिया। इसके लिए 60 साल से ज्यादा उम्र के लोग जिन्हें,  ब्लड प्रेशर, शुगर, कार्डियो इत्यादि सम्बन्धी समस्या है, गर्भवती महिलाएं, 0-5, 05-10 साल तक की उम्र के बच्चे तथा ऐसे 60 साल से कम उम्र के लोग, जिन्हें कोई गंभीर बीमारी है, उनका सर्वे जिले में किया जाएगा तथा उनका डेटा बेस तैयार कर ऑनलाइन किया जाएगा। इसके बाद यह सुनिश्चित किया जाएगा कि उन्हें सर्दी खांसी, बुखार तो नहीं हो रहा ? यदि उन्हें सर्दी, खांसी, बुखार हो तो उनका उचित उपचार किया जाएगा।इसके साथ ही जिले में सभी नगरीय निकायों और जनपदों में भी अगले एक साल के लिए ऐसे लोगों पर निगाह रखी जाएगी।

ग्रामीण क्षेत्रों में एएनएम, मितानिन, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता अथवा सचिव का नाम और मोबाइल नंबर सार्वजनिक स्थानों में चस्पा किया जाएगा, ताकि किसी भी व्यक्ति को सर्दी, खांसी होने पर तुरंत उक्त शासकीय कर्मी से संपर्क करे और आवश्यकता अनुसार दवाइयां खाए। इसी तरह नगरीय निकायों में यह जिम्मेदारी आयुक्त नगरपालिक निगम और मुख्य नगर पालिका अधिकारियों का अमला निभाएगा।बैठक में कलेक्टर ने साफ तौर पर कहा कि शहरी क्षेत्रों के सार्वजनिक स्थानों में नगरीय निकाय का अमला नियमित रूप से लाऊड स्पीकर के जरिए लोगों को इस महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए मास्क का उपयोग, सेनीटाईजेशन और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सूचित करता रहे। उन्होंने सर्दी खांसी के मरीजों के लिए अलग से व्यवस्था करने यथासंभव दूरभाष से सलाह देने और दवाइयों की घर पहुंच सेवा पर जोर दिया। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन के एक किलोमीटर की परिधि में आवश्यक सुविधा जैसे गैस एजेंसी, मेडिकल दुकान, किराना दुकान सुबह 7 से दोपहर 12 बजे तक खोलने की छूट रहेगी, किन्तु वहां के रहवासियों को अनिवार्यतः घर से इन सामानों के लिए जाते वक्त मास्क का उपयोग करना होगा। उन्होंने घोषित कंटेनमेंट जोन पर सम्बन्धित अधिकारियों को सतत निगाह रखने के निर्देश दिए कि क्षेत्रवासी नियमों का कड़ाई से पालन करें। साथ ही उक्त क्षेत्र में यदि कोई बैंक का एटीएम है, तो लोगों की सुविधा के लिए उसे खोला जाए मगर उन्हें सचेत किया जाए कि एटीएम मशीन का उपयोग करने से पहले वे हाथों को जरूर सेनिटाइज करें। बैठक में वनमण्डलाधिकारी अमिताभ बाजपेयी, अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.