GLIBS

निगम के दफ्तरों से प्लास्टिक की बोतलें बाहर, अब इनका होगा उपयोग

रविशंकर शर्मा  | 17 Sep , 2019 09:53 PM
निगम के दफ्तरों से प्लास्टिक की बोतलें बाहर, अब इनका होगा उपयोग

रायपुर। नगर निगम रायपुर की ओर से प्लास्टिक के खिलाफ अभियान छेड़ा गया है। जगह-जगह से सिंगल यूज पॉलीथिन जब्त की जा रही है। जनजागरुकता लाने के लिये रैलियां भी निकालकर लोगों को समझाइश दी जा रही है। इससे पहले निगम की ओर से खुद ही प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करने की कार्यवाही शुरू कर दी गई है। जोन क्रमांक 1 ,2 और 7 में प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद कर दिया गया है। आज जोन क्रमांक 7 के कार्यालय से प्लास्टिक की बोतलों को बाहर निकाला गया। जोन कमिश्नर विनोद पांडे ने बताया कि कर्मचारियों को प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करने की शपथ भी दिलायी गई।

पीने के पानी के लिये यहां स्टील का ड्रम, मग तथा गिलास की व्यवस्था कर दी गई है। इधर जोन क्रमांक 1 में जोन कमिश्नर दिनेश कोसरिया ने तांबे की तथा कार्यपालन अभियंता लोकेश चंद्रवंशी ने स्टेनलेस स्टील की बोतल का इस्तेमाल कर कर्मचारियों को भी प्लास्टिक की बोतलों के प्रयोग नहीं करने की हिदायत दी है। यहां भी पीने के पानी के लिये स्टील का ड्रम की व्यवस्था की गई है। इधर जोन क्रमांक 2 के जोन कमिश्नर नेतराम चंद्राकर ने बताया कि जोन कार्यालय में प्लास्टिक की बोतलों को प्रतिबंधित करते हुए कर्मचारियों को निर्देश दिये गये है कि पीने के पानी के लिये प्लास्टिक की बोतलों के बदले कांच या स्टील के गिलास का उपयोग करें। आज सुबह निगम के जोन 2 तथा रेलवे के अधिकारियों की संयुक्त टीम की ओर से रैली निकालकर जनजागरुकता अभियान चलाया गया।  साथ ही महालक्ष्मी मार्केट पंडरी तथा तेलघानी नाका चौक से स्टेशन चौक तक दुकानों की जांच की गई। 15 दुकानों में सिंगल यूज पॉलीथीन जब्त कर उनसे 5 हजार रुपए जुर्माना भी वसूला गया। इधर शास्त्री बाजार में निगम के स्वास्थ्य अधिकारी एके हलदार तथा जोन क्रमांक 4 की टीम की ओर से दुकानों और पसरे वालों की जांच की गई। बाजार में आने वाले नागरिकों को कपडेÞ़ के थैले भी बांटे गये। साथ ही नागरिकों को समझाइश भी दी गई कि पॉलीथिन से पर्यावरण को होने वाले नुकसान को देखते हुए कपड़े के थैले ही खरीदारी में इस्तेमाल किये जाएं। इधर सिविल लाइन क्षेत्र में पार्षद इंद्रजीत सिंह गहलोत के नेतृत्व में रावण पुतला से पंचशील नगर तक प्लास्टिक के इस्तेमाल नहीं करने के लिये जनजागरुकता रैली निकाली गई।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.