GLIBS

संजय श्रीवास्तव के बयान पर कांग्रेस का पलटवार,धनंजय ने कहा- भाजपा को आदिवासियों से इतनी नफरत क्यों?

रविशंकर शर्मा  | 16 Sep , 2020 08:58 PM
संजय श्रीवास्तव के बयान पर कांग्रेस का पलटवार,धनंजय ने कहा- भाजपा को आदिवासियों से इतनी नफरत क्यों?

रायपुर। भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव के बयान पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा है कि, रमन भाजपा शासनकाल में निर्दोष बेगुनाह आदिवासियों को छोटे-छोटे मामलों में गिरफ्तार कर सालों तक जेल में बंद किया गया। उनके रिहाई के लिए कोई प्रयास नहीं किया गया। रमन सरकार सालों तक जेल में बंद आदिवसियों के मामलों में साक्ष्य प्रस्तुत नहीं कर पाई। अब आदिवासी वर्ग जेल में बंद निर्दोष आदिवासियों की रिहाई की मांग कर रहा, तब भाजपा आदिवासियों के आंदोलन को ही नक्सलियों का समर्थन बताकर प्रदेश के आदिवासी वर्ग को नक्सली बताने में तुली है। आखिर भाजपा को आदिवासियों से इतनी नफरत क्यों है ? रमन शासनकाल में आदिवासियों के 90 एकड़ जमीन छीन ली गई? भाजपा समर्थित उद्योगपतियों को आदिवासियों के जल जंगल जमीन सौंपने आदिवासियों पर अत्याचार किया गया।

उनका शोषण किया गया, उनके कानूनी अधिकारों से उनको वंचित किया गया था। रमन सरकार में आदिवासियों को नक्सली अभियान के नाम पर प्रताड़ित किया जाता रहा। महिलाओं का सामूहिक यौन शोषण, निर्दोष आदिवासियों के फर्जी एनकाउंटर, नक्सल समर्थन के नाम पर गांव के गांव जला देने  जैसी शर्मनाक घटनाओं को पूरा छत्तीसगढ़ ने देखा है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा है कि, जल्द ही छत्तीसगढ़ जेलों में सजा काट रहे आदिवासियों को रिहा कर दिया जाएगा। आदिवासी इलाकों से आबकारी एक्ट की मामूली धाराओं के तहत जेल में सजा काट रहे 320 आदिवासियों की रिहाई पर विचार-विमर्श चल रहा है। जस्टिस एके पटनायक की अध्यक्षता में बनी कमेटी ने इनकी रिहाई का फैसला लिया है।

 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.