GLIBS

न इंटरनेट न फोर जी नेटवर्क, साधारण मोबाइल फोन से बच्चों को पढ़ा रही है रेकी गांव की सरकारी स्कूल की टीचर इंदू डहरिया

यामिनी दुबे  | 18 Sep , 2020 01:39 PM
न इंटरनेट न फोर जी नेटवर्क, साधारण मोबाइल फोन से बच्चों को पढ़ा रही है रेकी गांव की सरकारी स्कूल की टीचर इंदू डहरिया

रायपुर/कोरबा। बिना इंटरनेट बिना फोर जी नेटवर्क केवल फोन काॅल से ही बच्चों को पढ़ाई से जोड़ कर रख रही हरदीबाजार संकुल के रैकी की शासकीय माध्यमिक शाला की शिक्षिका इंदू डहरिया। इंदू डहरिया केवल सामान्य फोन काॅल से ही कई किलोेमीटर दूर बैठकर भी रोज विद्यार्थियों को पढ़ा रही हैं। शासकीय मिडिल स्कूल रैकी की शिक्षिका इंदू डहरिया जब बच्चों को अपने मोबाइल काॅल से सूर्य, ग्रह, आकाशगंगा का पाठ समझा रही थी, तभी स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डाॅ. आलोक शुक्ला जिला कलेक्टर किरण कौशल के साथ रैकी पहुंच गये। उन्होंने पहले तो बिना कुछ कहे चुपचाप बैठकर सिस्टम समझा पर, जब जिज्ञासा शांत नहीं हुई तो, समन्वयक सेवनलाल राठौर को बुलाकर जानकारी ली।

डाॅ. शुक्ला ने पूछा कि ना तो वीडियो काॅल है, ना यहां कोई प्रोजेक्टर लगा है, पर फिर भी इतने बेहतरीन तरीके से यहां पढ़ाई कैसे हो रही है? प्रमुख सचिव को संकुल समन्वयक  सेवनलाल ने बताया कि सामान्य मोबाइल वाॅइस काॅल से शिक्षिका इंदू डहरिया उरगा में बैठकर मिडिल स्कूल रैकी में बैठे बच्चों को पढ़ा रहीं हैं। डीईओ सतीश पाण्डेय ने बताया कि इस स्पीकर सिस्टम को किसी भी स्कूल कर्मी या छात्र के परिजन के मोबाइल से जोड़कर रखा जाता है। शिक्षिका की ओर से तय समय पर स्कूल परिसर में विद्यार्थियों को बुलाकर कोविड-19 प्रोटोकाॅल का पालन करते हुये मास्क लगाकर व सोशल डिस्टेेंसिंग से बैठाया जाता है। शिक्षिका दिये गये नम्बर पर सामान्य वाॅइस काॅल करती है और काॅल कनेक्ट होने पर स्पीकर से उनकी तेज आवाज निकलती है। सभी बच्चे शिक्षिका द्वारा इस प्रकार पढ़ाये जा रहे पाठ को सुनते हैं तथा अपनी जिज्ञासा शांत करने के लिये प्रश्न भी पूछ लेते हैं। यह पढ़ाई सामान्य मोबाइल वाॅइस काॅल से होती है। इसीलिये स्मार्ट फोन या वीडियो काॅल की जरूरत नहीं होती और शिक्षिका-छात्रों का संवाद आपस में सामान्य काॅल की तरह होता है। इस पूरे सिस्टम को देखकर प्रमुख सचिव डाॅ. आलोक शुक्ला अचंभित रह गये। उन्होंने इस नवाचार के लिये डीईओ सतीश पाण्डेय सहित पूरे शिक्षा विभाग की प्रशंसा की।

डाॅ. शुक्ला ने किया मोहल्ला क्लासेस का निरीक्षण- डाॅ. शुक्ला ने आज अपने कोरबा प्रवास के दौरान कोरोना काल मेें बच्चों की पढ़ाई के लिये चलाई जा रही मोहल्ला क्लासेस का निरीक्षण व अवलोकन किया। उन्होंने हरदीबाजार संकुल के सुवामोड़ी की प्राथमिक शाला, रैकी की माध्यमिक शाला तथा नुनेरा संकुल की बांधाखार पूर्व माध्यमिक शाला की मोहल्ला क्लासेस का निरीक्षण किया। डाॅ. शुक्ला ने इन कक्षाओं में विद्यार्थियों से संवाद किया। उन्होंने विद्यार्थियों से किताबों में लिखे पाठ पढ़वाकर उनके अक्षर ज्ञान को परखा। प्रमुख सचिव ने बच्चों से गिनती, जोड़-घटाना, गुणा-भाग आदि के सवाल भी किये। डाॅ. शुक्ला ने बच्चों को चित्रों, माॅडलों, कहानियों के माध्यम से पढ़ाने के सरल-सुगम तरीकों की तारीफ की और इस कोरोना महामारी के दौरान बच्चों को सावधानी पूर्वक पढ़ाने पर शिक्षकों की हौसला अफजाई भी की। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ कुंदन कुमार, नगर निगम के आयुक्त एस. जयवर्धन और जिला शिक्षाधिकारी सतीश पाण्डेय मौजूद रहे।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.