GLIBS

विधायक के अल्टीमेटम के बाद मिशन आया एक्शन मोड में

संध्या सिंह  | 04 May , 2021 08:13 PM
विधायक के अल्टीमेटम के बाद मिशन आया एक्शन मोड में

दुर्ग । नगर निगम में पेयजल संकट की स्थित आए दिन निर्मित हो रही थी। इसमें प्रमुख रूप से पटरी पार क्षेत्र के वार्डों की व्यवस्था सुधारने के लिए जल विभाग गंभीर नजर नहीं आ रहा था। 12 वार्डों की एक लाख से अधिक आबादी को पेयजल की लगातार शिकायतों पर विधायक अरुण वोरा व महापौर धीरज बाकलीवाल व कार्यपालन अभियंता राजेश पांडेय की समीक्षा बैठक के बाद 11 एमएलडी फ़िल्टर प्लांट व हनुमान नगर स्थित नवनिर्मित पानी टंकी पहुंचे। विधायक वोरा ने अमृत मिशन से संबंधित सभी अधिकारियों से स्पष्ट रूप से कहा कि बार बार जल आपूर्ति में अवरोध एक गंभीर समस्या है। इसपर रोक लगना आवश्यक है। जबकि करोड़ों रु की राशि से शहर की शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए खर्च किया जा रहा है। एक समय सीमा सुनिश्चित कर हनुमान नगर, ट्रांसपोर्ट नगर व जवाहर नगर समेत तीनों पानी टंकियों सहित निगम क्षेत्र के समस्त वार्डों में पेयजल आपूर्ति सामान्य किया जाए। शुद्ध जल प्रदाय में लगातार लापरवाही सामने आ रही है। बावजूद इसके निगम के जिम्मेदार अधिकारियों को संज्ञान में लेते हुए जल्द निराकरण के निर्देश दिए गए हैं। बहुप्रतीक्षित योजना का लाभ जनता को अतिशीघ्र मिलना चाहिए। महापौर बाकलीवाल ने कहा कि नगर निगम द्वारा शासन की योजना के तहत 153 करोड़ की लागत से शहर के 49500 घरों में पेयजल प्रदान करने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। 11 एमएलडी फ़िल्टर प्लांट का वॉल्व बदलने के निर्देश दिए गए हैं, जिससे कई वार्डों में आपूर्ति निर्बाध हो जाएगी। निरीक्षण के दौरान काशीराम रात्रे, अमित देवांगन, पूर्व पार्षद राजेश शर्मा, नंदू महोबिया, अंशुल पांडेय, हेमू तिवारी, सुमित वोरा, नारायण ठाकुर मौजूद थे।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.