GLIBS

अन्य राज्यों से वापस आए प्रवासी व्यक्तियों को मई-जून माह में मिलेगा 5 किलो खाद्यान्न

वैभव चौधरी  | 18 May , 2020 06:04 PM
अन्य राज्यों से वापस आए प्रवासी व्यक्तियों को मई-जून माह में मिलेगा 5 किलो खाद्यान्न

धमतरी। नोवेल कोरोना वायरस कोविड-19 से प्रभावित अन्य राज्यों से छत्तीसगढ़ आए प्रवासी व्यक्ति को माह मई और जून 2020 में प्रति सदस्य पांच किलो के मान से खाद्यान्न दिया जाएगा। उक्त संबंध में कलेक्टर रजत बंसल ने आदेश जारी कर संबंधित अधिकारियों को डाटा प्रविष्टि का कार्य शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। आदेश में यह उल्लेख किया गया है कि इस योजना के तहत अन्य राज्यों से वापस आए छत्तीसगढ़ के ऐसे प्रवासी व्यक्ति को ही राशन सामग्री के लिए पात्रता होगी,जिनके नाम पर राज्य में कोई राशनकार्ड जारी नहीं किया गया हो या किसी भी अन्य राशन कार्ड में इनका नाम सदस्य के रूप में दर्ज न हों। इसके लिए जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय निकायों में आयुक्त नगरपालिक निगम तथा मुख्य नगरपालिका अधिकारी नगर पंचायत को अपने-अपने प्रभार वाले क्षेत्रांतर्गत अन्य राज्यों से वापस आए ऐसे पात्र प्रवासी व्यक्तियों की पहचान कर उन्हें ग्राम पंचायत या वार्डवार सूचीबद्ध करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही श्रम पदाधिकारी के द्वारा प्रवासी व्यक्तियों से संबंधित डाटा संबंधित जनपद पंचायत या नगरीय निकायों को साझा किया जाएगा तथा अनुविभागीय अधिकारी राजस्व उक्त विभागों के बीच समन्वय स्थापित करेंगे।

आदेश में कहा गया है कि खाद्य अधिकारी अपने माॅड्यूल में जिले की जनपद पंचायतों के सीईओ, नगरीय निकायों के आयुक्त/सीएम.ओ. के नाम मोबाइल नंबर की एंट्री कर उनके लिए आईडी तैयार करेंगे तथा एंट्री किए गए मोबाइल नंबर से उन्हें पासवर्ड प्राप्त होगा। पात्र प्रवासी व्यक्तियों की डाटा एंट्री में उनका नाम, पिता/पति का नाम, प्रवास से वापस आए उनके परिवार के सभी सदस्यों के नाम, आधार नंबर एवं न्यूनतम एक सदस्य के मोबाइल नंबर की प्रविष्टि अनिवार्य रूप से की जाएगी। खाद्यान्न प्राप्त करने वाले पात्र प्रवासी व्यक्ति अपने आईडी नंबर एवं एक पहचान पत्र के साथ उचित मूल्य की दुकान में उपस्थित होकर पात्रतानुसार खाद्यान्न प्राप्त करेंगे। पीडीएस सेंटर के दुकानदार द्वारा प्रवासी व्यक्तियों के लिए प्राप्त खाद्यान्न का पृथक् स्टाॅक पंजी एवं वितरण पंजी का अनिवार्य रूप से संधारण किया जाएगा। कलेक्टर ने पात्र प्रवासी व्यक्तियों/परिवारों को चिन्हांकित कर उनकी डाटा एंट्री प्राथमिकता से पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं, जिससे उन्हें मई माह में ही खाद्यान्न उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जा सके।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.