GLIBS

कोरिया कलेक्टर श्याम धावड़े ने गौठानो का निरीक्षण किया वन विभाग के टॉवर पर भी चढ़ कर जायजा लिया कलेक्टर ने

यामिनी दुबे  | 11 Jun , 2021 06:45 PM
कोरिया कलेक्टर श्याम धावड़े ने गौठानो का निरीक्षण किया वन विभाग के टॉवर पर भी चढ़ कर जायजा लिया कलेक्टर ने

रायपुर/कोरिया। सुराजी ग्राम योजना के तहत ग्राम पंचायतों में बनाए गए गौठान उस गांव की महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए आदर्श स्थान बन रहे हैं। इसे और मजबूती प्रदान करने के लिए हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। पंचायत ग्रामीण विकास विभाग की महत्वाकांक्षी योजना सुराजी ग्राम योजना के तहत बने गौठान का निरीक्षण करने के लिए कलेक्टर श्याम धावड़े ने जिला पंचायत सीईओ कुणाल दुदावत के साथ विकासखण्ड सोनहत के ग्राम घुघरा का भ्रमण किया। घुघरा में स्थित गौठान एवं मल्टीयूटीलिटी सेंटर का निरीक्षण करते हुए उन्होंने महिला स्व सहायता समुहों के महिलाओं से बातचीत कर उनके व्यवसाय की विस्तार से जानकारी ली। इसके पहले उन्होंने पहाड़पारा में वन विभाग के टॉवर पर चढ़कर स्थल का मुआयना भी किया।

सोनहत भ्रमण के दौरान कलेक्टर  धावड़े ने घुघरा स्थित गौठान का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने मल्टीयूटीलिटी सेंटर में कार्यरत समूह की महिलाओं से उनकी आजीविका,होने वाले आर्थिक लाभ और समूह की महिलाओं के परिजनों के बारे में जानकारी ली। इस दौरान ग्राम पंचायत के जनप्रतिनिधियों के साथ गौठान के नोडल अधिकारी भी उपस्थित रहे। यंहा मशीनों से फ्लाई ऐश बनाने वाली महिलाओं ने बताया कि अब तक वे 70 हजार ईंटें विक्रय कर चुकी हैं। प्रति इंट 3 रुपये के दर से बेची जा रही है। इसके बाद उन्होंने चप्पल निर्माण करने वाले स्वसहायता समूह से उत्पाद की मांग और विक्रय की जानकारी ली।

समूह की सदस्य सुदेश्वरी ने बताया कि आस पास के ग्राम पंचायतों में लगने वाले साप्ताहिक हाट बाजार में 400 से 500 रुपये तक की बिक्री हो जाती है। कलेक्टर  धावड़े ने समूह की महिलाओं उत्साह बढ़ाते हुए एक जोड़ी चप्पल की कीमत पूछी और अपने नाप की एक जोड़ी चप्पल खरीद कर सुदेश्वरी को इसकी नगद कीमत भी अदा की। उन्होंने कहा की समूह की महिलाएं पूरा मन लगाकर कार्य करें, उन्हें आर्थिक रूप से सक्षम बनाने के लिए हर सम्भव मदद की जाएगी। इसके बाद कलेक्टर धावड़े ने गौठान में वर्मी छनाई कर रही महिलाओं से बात की। गौठान से लगे चारागाह का भी अवलोकन कर उन्होंने लगाए गए नेपियर ग्रास और उसके कुल उत्पादन व बिक्री की जानकारी ली। गौठान परिसर के समीप तालाब में पानी की उपलब्धता के बारे मे स्थानीय लोगों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि अब ट्रीटमेंट हो जाने के बाद इसमे वर्ष भर पानी रहेगा। इस दौरान ग्रामीणों के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधि और शासकीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

ताज़ा खबरें

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.