GLIBS

जानें लॉक डाउन 4.0 में शादी को लेकर क्या है सरकार का आदेश, हो सकते हैं इतने लोग शामिल?

ग्लिब्स टीम  | 18 May , 2020 12:11 PM
जानें लॉक डाउन 4.0 में शादी को लेकर क्या है सरकार का  आदेश, हो सकते हैं इतने लोग शामिल?

नई दिल्ली। देश में लॉक डाउन को 31 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। सोमवार से लॉक डाउन 4.0 देश भर में प्रभावी हो गया है। लॉक डाउन 3.0 की मियाद रविवार 17 मई को खत्म हो चुकी है। बता दें कि लॉक डाउन 4.0 को लेकर केंद्र सरकार ने गाइडलाइंस भी जारी कर दी है। लॉक डाउन 4.0 में आर्थिक गतिविधियों को लेकर कई तरह छूट भी दी गई है, लेकिन स्कूल, कॉलेज, सिनेमाघर, मेट्रो, हवाई सेवा आदि पर प्रतिबंध पहले की तरह जारी रखा गया है।

शादी के आयोजनों में 50 लोग हो सकते हैं शामिल :

सरकार की गाइडलाइंस में शादी को लेकर कहा गया है कि इस पर रोक नहीं है, लेकिन 50 से अधिक लोग शादी समारोह में शामिल नहीं हो सकते हैं। वहीं अंतिम संस्कार में 20 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकते हैं। शादी और अंतिम संस्कार को लेकर लॉक डाउन 3 के नियम को ही जारी रखा गया है। गृह मंत्रालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि ”शादी से जुड़े समारोह का आयोजन सोशल डिस्टेंशिंग का पालन करते हुए किया जा सकता है। लेकिन अधिकतम 50 मेहमानों को ही शामिल होने की अनुमति होगी।” अंतिम संस्कार को लेकर भी गृह मंत्रालय ने कहा है कि अंतिम संस्कार में भी सोशल डिस्टेंशिंग का पालन सुनिश्चत करते हुए अधिकतम 20 लोग ही शामिल हो सकते हैं।

बाहर निकलने से पहले मास्क कवर लगाना अनिवार्य है। बार-बार साबुन से हाथ धोने या सैनिटाइज करने के अलावा दो गज की दूरी बनाए रखने की सलाह दी गई है। इसके अलावा सभी तरह के सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक समारोह पर प्रतिबंध को जारी रखा गया है। मंदिर, मस्जिद, चर्च सहति सभी प्रार्थना स्थलों को भी बंद रखने का आदेश दिया गया है। आवश्यक सेवाओं के अलावा अन्य सभी लोगों के लिए शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे के बीच देश भर में घरों से बाहर निकलने पर पाबंदी होगी। बता दें कि देश भर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 96,169 हो गई है, जिनमें 56,316 सक्रिय हैं, 36,824 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और 3,029 लोगों की मौत हो चुकी है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.