GLIBS

मुझे वीआईपी सुविधा नहीं, माफी चाहिए : विधायक विनोद चन्द्राकर

मुझे वीआईपी सुविधा नहीं, माफी चाहिए : विधायक विनोद चन्द्राकर

महासमुन्द। महासमुन्द विधायक विनोद चन्द्राकर पर महिला कर्मचारी का आरोप लगाने वाले एयर इंडिया के कर्मचारी शनिवार दोपहर 12 बजे पहुंच कर उन्होंने वीआईपी मेहमान बनाने का ऑफर लेकर पहुंचे थे। लेकिन विधायक ने एयर इंडिया के इस वीआईपी ऑफर को अस्वीकार करते हुए, दो टूक कहा कि जैसे एयर इंडिया ने मुझे अपमानित किया है उसकी तरह वह माफी मांग ले फिर कोई बात नहीं। मुझे ना तो एयर इंडिया का वीआईपी सुविधा चाहिए ना ही मुझे इसकी दरकार है। गौरतलब है कि 7 सितम्बर को महासमुन्द विधायक विनोद चन्द्राकर अपने साथियों के साथ बाबाधाम एयर इंडिया की विमान से जाने एयरपोर्ट रायपुर पहुंचे थे। एयर इंडिया के एक महिला कर्मचारी ने विधायक को रोक लिया और कहा कि आप निर्धारित समय से पहुंचे नहीं है इसलिए आप ये सफर नहीं कर सकेंगे। विधायक और महिला कर्मचारी के बीच इसी बात को लेकर कुछ बातचीत हो गई। मामला मीडिया तक पहुंचा और एयर इंडिया के अधिकारियों द्वारा यह बात कही गई थी कि महासमुन्द विधायक विनोद चन्द्राकर एयरपोर्ट देर से पहुंचे थे इसलिए एयर इंडिया की महिला कर्मचारी ने उन्हें रोक दिया इस बात को लेकर विधायक नाराज हुए और महिला कर्मचारी के साथ र्दुव्यवहार किया यहां तक की महिला कर्मचारी का मोबाइल विधायक ने छीन लिया था। मीडिया ने जब विधायक चन्द्राकर से पूछा तो उन्होंने मामले को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि मैंने नहीं एयर इंडिया की महिला कर्मचारी ने मुझसे र्दुव्यवहार कर मुझे अपमानित किया है साथ ही विधायक ने कहा कि मैं किसी भी जांच के लिए तैयार हूं। एयर इंडिया अपने सीसीटीवी फूटेज की जांच करा ले दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। मीडिया में समाचार छपने से पहले ही विधायक चन्द्राकर ने मामले की शिकायत एयर इंडिया के चीफ ऑफ आथोरिर्टी से शिकायत की थी। एयर इंडिया के दो अधिकारी शनिवार विधायक निवास पहुंच थे और उन्होंने विधायक विनोद चन्द्राकर को ऑफर देते हुए कहा कि आपके साथ, जो हुआ है वह उसकी रिपोर्ट सीसीटी हमने अपने ऊपर के अधिकारियों को भेंज दी है। आप मामले को यहीं समाप्त कर दीजिए। एयर इंडिया आपको अपना वीआईपी सुविधा देगा और आपकी टिकट की कीमत भी लौटा दी जायेगी। मीडिया ने जब एयर इंडिया के कर्मचारियों से मामले में पूछताछ की तो उन्होंने मीडिया को कहा कि हम किसी तरह से मीडिया को बयान नहीं दे सकते हैं हमने अपनी रिपोर्ट अपने उच्च अधिकारियों को भेज दी है। उच्चाधिकारियों के ही कहने पर हम विधायक से मिलने आये हैं। विधायक विनोद चन्द्राकर ने एयर इंडिया के कर्मचारियों को मीडिया के सामने कहा है कि एयर इडिया मामले में माफी मांगे। वरना मैं मानहानि का दावा ठोकने तैयार हूं। आप अपने उच्चाधिकारियों को इस बात की जानकारी दे दें।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.