GLIBS

घर पहुंच सेवा देने निगम को चाहिए वार्ड वालिंटियर

संध्या सिंह  | 25 Mar , 2020 09:58 PM
घर पहुंच सेवा देने निगम को चाहिए वार्ड वालिंटियर

दुर्ग। दुर्ग कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन ने कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए राज्य शासन के निर्देश अनुसार नगर पालिक निगम दुर्ग द्वारा शहर के आम नागरिकों को उनकी दैनिक सामग्रियों की पूर्ति करने घर पहुंच सेवा उपलब्ध कराने वार्ड वॉलिंटियर नियुक्त करेगी। निगम सीमा क्षेत्र के ऐसे इच्छुक नागरिक जो पैसा लेकर सामान घर पहुंचाने के कार्य का इच्छुक हैं। ऐसे लोगों को वॉलिंटियर्स नियुक्त किया जाएगा। बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए भारत सरकार द्वारा लाकडाउन कर दिया गया है। इसमें जरूरी चीजों की उपलब्धता के लिए दुकानों व्यवसाय को चिन्हित किया गया है। परंतु वायरस के संक्रमण रोकने भीड़-भाड़ की स्थिति निर्मित ना हो इसे देखते हुए राज्य शासन के निर्देश पर नगर पालिक निगम दुर्ग द्वारा वार्ड वॉलिंटियर्स नियुक्त किया जा रहा है । 

इस संबंध में निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन कहा कि नगर पालिक निगम दुर्ग सीमा क्षेत्र में वॉलिंटियर्स बनने वाले इच्छुक सदस्यों से अपील की जाती है कि प्रत्येक वार्ड में दैनिक आवश्यकताएं की सामग्री घर-घर पहुंचाया जाना है। अत: इच्छुक नागरिक अपना नाम पता वार्ड क्रमांक मोबाइल नंबर तथा पासपोर्ट साइज की एक फोटो भूपेंद्र गोईर (शुभम) निजी सहायक आयुक्त के मोबाइल नंबर 77240 10333 के वाट्सएप पर भेज सकते हैं। संबंधित नियुक्त वॉलिंटियर्स को निगम से आईडी कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा। इसका उद्देश्य बाजार से सब्जी मार्केट,मेडिकल स्टोर,किराना स्टोर,दूध डेयरी आदि अन्य आवश्यक सामग्री मिलती हो वहां अनावश्यक भीड़ ना हो। क्योंकि नोवल कोरोना वायरस का संक्रमण भीड़-भाड़ वाली जगहों पर होने की अधिक संभावना रहती है। इस आशय से बचाव कार्य हेतु वॉलिंटियर्स का कार्य वार्ड के नागरिकों से सामग्री की सूची लेकर किराना सामान, अनाज, दवाई, दूध, सब्जी, फल आदि आवश्यक सामग्री की आपूर्ति करना है। उन्होंने कहा एक वार्ड में तीन वॉलिंटियर्स नियुक्त किया जाएगा। सभी वॉलिंटियर्स को आई कार्ड जारी किया जाएगा। आई कार्ड के साथ ही वॉलिंटियर्स नागरिकों से संपर्क कर उनसे सूची प्राप्त करेंगे और वे उनके सामान घर तक पहुंचाएंगे। अगर यह स्कीम लोगों को पसंद आई तो निगम के इस कदम के सभी सराहना करेंगे।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.