GLIBS

जिला पंचायत सदस्य के विरुद्ध एफआईआर दर्ज

जिला पंचायत सदस्य के विरुद्ध एफआईआर दर्ज

आरंग। बीते 18 मई को ग्राम पंचायत पाहंदा मे मनरेगा कार्य के दौरान मजदूरी भुगतान की राशि कटौती के करने में मामले में इंजीनियर को बंधक बनाकर दुर्व्यवहार कर धक्कामुक्की की घटना प्रकाश में आई थी। जिसके बाद प्राथी इंजीनियर चैताली चंद्राकर के द्वारा जिला पंचायत सदस्य रानी पटेल और ग्राम पाहन्दा के सरपंच, उपसरपंच के अलावा कई लोगों के खिलाफ आरंग थाना में शिकायत दर्ज कराई गई है।
मिली जानकारी के अनुसार बीते 18 मई को करंग जनपद के ग्राम पाहन्दा में मनरेगा के तहत कार्य के दौरान  जिला पंचायत सदस्य रायपुर रानी पटेल ने फोन कर मनरेगा इंजिनियर चैताली चंद्राकर को ग्राम पंचायत पाहंदा में बुलाया गया था। जहां पर सरपंच, उपसरपंच सहित लगभग 300 महिला व पुरूष मजदूर उपस्थित थे। इसके बाद जिला पंचायत सदस्य के द्वारा मनरेगा में हुए भुगतान की कटौती के संबंध में इंजिनियर से जानकारी ली गई।  इसमें इंजिनियर के द्वारा जानकारी दी गई कि 10 दिन पूर्व हुए गोदी कार्य में गहराई कम होने की वजह से मजदूरों की राशि के भुगतान में रोजगार सहायक तुमनाथ साहू व वेयर फुट इंजिनियर जितेन्द्र कुमार के रिपोर्ट के आधार पर गहराई कम होने के वजह से राशि में कटौती की गई है। मनरेगा के भुगतान में हुए कटौती को लेकर जिला सदस्य ने इंजिनियर के साथ दुव्र्यव्हार किया। उनके प्रतिनिधियों ने शासकीय कार्य में बाधा डालते हुए तथा शासन के द्वारा लागू धारा 144 का उल्लंघन करते हुए इंजिनियर के साथ-साथ दुर्व्यवहार करते हुए बंधक बना लिया गया। इसकी सूचना इंजिनियर द्वारा अपने उच्च अधिकारी जनपद पंचायत आरंग के मुख्य कार्यपालन अधिकारी किरण कौशिक व कार्यक्रम अधिकारी अनिल चंद्राकर को दी गई। जो वहां पर पहुंचे और हस्तक्षेप करते हुए इंजिनियर चैताली चंद्राकर को मुक्त कराया। इसकी जानकारी शनिवार को आरंग थाना प्रभारी को देते हुए इंजिनियर ने मामला दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया। इसके बाद जिला पंचायत सदस्य रानी पटेल, उनके प्रतिनिधियों के विरुद्ध गाली-गलौज, बलवा, शासकीय कार्य में बाधा, शासकीय कर्मचारी के साथ दुव्र्यव्हार व धारा 144 के उल्लंघन के लिए आईपीसी की धारा 186, 188, 294, 353, 323, 341, 147 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है। इस मामले में आरंग थाना प्रभारी लेखधर दीवान ने जांच कर कार्रवाई करने की बात कही है।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.