GLIBS

कोरोना वायरस से बचाव, जांच एवं प्रबंधन पर परिचर्चा

कोरोना वायरस से बचाव, जांच एवं प्रबंधन पर परिचर्चा

मुंगेली। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा सुखनंदन अस्पताल मुंगेली के सभाकक्ष में जिला मेडिकल एसोसिएशन के सदस्यों तथा निजी चिकित्सकों का कोरोना वायरस के विषय पर परिचर्चा आयोजित की गई। परिचर्चा में कहा गया कि ऐसे व्यक्ति जो कि कोरोना प्रभावित देशों की 15 फरवरी के बाद यात्रा किये हैं तथा बुखार, खांसी एवं सांस में तकलीफ की शिकायत हो, को संभावित मरीज की श्रेणी में मानकर उसे जिला अस्पताल, मेडिकल कालेज या नजदीकी एमबीबीएस या मेडिकल विशेषज्ञ से सलाह ले। सैम्पल लेने की सुविधा जिला अस्पताल में उपलब्ध है। राज्य में भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान रायपुर जांच की सुविधा उपलब्ध है। सभी चिकित्सकों को अपने स्टाफ से बार-बार हाथ धोने, सर्दी, खाँसी वाले मरीजों को काउंसलिंग, ओपीडी क्षेत्र में भीड़ का प्रबंधन की जानकारी से अवगत कराने बताया गया। संभावित व्यक्ति जिन्हें कोई तकलीफ नहीं है, को घर पर ही रहने की हिदायत दिए जाने चाहिए। भीड़ वाले स्थानों में जाने से बचा जावे तथा खाँसी आने पर रुमाल, सर्जिकल मास्क का उपयोग किया जावे। परिचर्चा के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.कमलेश खैरवार, डॉ. रविशंकर प्रसाद देवांगन, डाॅ.व्हीके साॅलोमन, डाॅ.राजन सुखनंदन, डाॅ.सजय अग्रवाल, डाॅ.एके जाॅन, डाॅ.सेलिन कुजूर, डाॅ.अल्का मिंज सहित निजी चिकित्सक उपस्थित थे।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.