GLIBS

संचालक लोक शिक्षण ने स्कूली बच्चों के साथ किया मध्यान्ह भोजन  

ग्लिब्स टीम  | 22 Oct , 2019 10:35 PM
संचालक लोक शिक्षण ने स्कूली बच्चों के साथ किया मध्यान्ह भोजन  

रायपुर। संचालक लोक शिक्षण संचालनालय एस. प्रकाश ने मंगलवार को महासमुंद, बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के हायर सेकण्डरी, हाई स्कूल, मिडिल और प्रायमरी स्कूल का औचक निरीक्षण किया। एस. प्रकाश ने कसडोल विकासखंड के ग्राम बल्दाकछार में स्कूली बच्चों के साथ बैठक कर मध्यान्ह भोजन किया, ई-साक्षरता केन्द्र बलौदाबाजार के शिक्षार्थियों से रू-ब-रू भी हुए। संचालक लोक शिक्षण सुबह महासमुंद जिले के बेलसोंडा हाईस्कूल पहुंचे और वहां अटल टिंकरिंग लैब का अवलोकन कर छात्र-छात्राओं से बातचीत की। संचालक लोक शिक्षण इसके पश्चात अचानक मीडिल स्कूल छपोराडीह पहुंचे। यहां 11 शिक्षकों में से 9 शिक्षक उपस्थित मिले, एक शिक्षक अवकाश पर और दूसरा शिक्षक मान्यता के काम से माध्यमिक शिक्षा मंडल कार्यालय में काम से जाने की जानकारी दी गई। उन्होंने नाराजगी जताई कि जब सब कुछ ऑनलाईन हो रहा है तो तो जाने की क्या आवश्यकता है। स्कूल में 'लर्निंग आऊट कम' अर्थात बच्चों की दक्षता संबंधी जानकारी दीवार पर नहीं लिखे जाने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए इस जानकारी को चस्पा करने और उसकी फोटो खींचकर भेजने के निर्देश संबंधित को दिए।

बोरिद प्रायमरी स्कूल में एक भी बच्चा ड्रॉप आऊट नहीं
संचालक एस. प्रकाश दूरस्थ अंचल के हाथी प्रभावित क्षेत्र में 5 किलोमीटर कच्चे रास्ते से जाकर ग्राम बोरिद के प्रायमरी स्कूल पहुंचे। यहां एक शिक्षकीय स्कूल के बच्चों के परफारमेंस ने उन्हें अभिभूत कर दिया। यहां उन्होंने सभी बच्चों को प्रोत्साहन स्वरूप चॉकलेट का वितरण किया। स्कूल के छात्र-छात्राओं ने न केवल कविता सुनाई बल्कि पुस्तकों के पाठों का पठन भी अच्छे से किया। स्कूल के शिक्षक बाबूलाल ध्रुव विद्यालय से संबंधित सभी जानकारी टीम्स-टी-एप में समय-समय पर अपलोड भी करते हैं। प्रकाश ने शिक्षक की मेहनत की तारीफ की इस गांव की आबादी लगभग 400 है और स्कूल की विशेषता यह है कि एक भी बच्चा ड्रॉप आऊट नहीं है। संचालक एस. प्रकाश के निरीक्षण के दौरान उनके साथ लोक शिक्षण संचालनालय के सहायक संचालक महेश नायक और राज्य साक्षरता मिशन के सहायक संचालक प्रशांत पाण्डेय भी थे। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा विभाग के संबंधित क्षेत्र के अधिकारी भी उपस्थित थे।

 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.