GLIBS

जिला चिकित्सालय में डीएमएफ की राशि से खरीदी जाएगी डायलिसिस मशीन : कलेक्टर

अमित कुमार  | 23 Feb , 2020 09:31 PM
जिला चिकित्सालय में डीएमएफ की राशि से खरीदी जाएगी डायलिसिस मशीन : कलेक्टर

कोरिया। कलेक्टर डोमन सिंह की अध्यक्षता में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कार्यालय के सभाकक्ष में जिला स्तरीय स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक हुई। बैठक में कलेक्टर ने डीएमएफ से सभी स्वीकृत कार्यों की पूर्ण एवं प्रगतिरत व अप्रारंभ कार्यों की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने जिला खनिज संस्थान न्यास की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति, रेडक्रास सोसायटी, पीसीपीएनडीटी, एनजीटी एवं बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेण्ट सहित अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा कर संबंधित अधिकारियों को निर्देर्शि किया। उन्होंने इंडियन रेडक्रास सोसायटी शाखा कोरिया जिले की उपलब्धियां, खाता की अद्यतन जानकारी, सदस्यता बढ़ाने, आय बढ़ाने के स्त्रोत बढ़ाने तथा किन किन मदों में खर्च किया जा सकता है की जानकारी ली।

बैठक में कलेक्टर ने जिला निशक्त पुनर्वास केंद्र के संचालन पर चर्चा की। उन्होंने समाज कल्याण अधिकारी को दिव्यांगों का सर्वे, राज्य एवं राश्ट्रीय योजनाओं का लाभ दिलाने तथा सभी विकासखण्डों में 4 मार्च को जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में दिव्यांगों को सहायक उपकरण एवं कृत्रिम अंग प्रदाय करने निर्देशित किये। उन्होंने मार्च के प्रथम सप्ताह में बैकुण्ठपुर, मनेन्द्रगढ एवं जनकपुर में रक्तदान शिविर आयोजित करने, जिला चिकित्सालय में आईसीयू, एसएनसीयू एवं वेंटीलेटर की स्थापना, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में लैब, आवश्यक उपकरण, दवाई की उपलब्धता,बैकुण्ठपुर एवं जनकपुर में एनेस्थेसिया पर चर्चा करते हुए सभी विकासखण्डों में मरच्यूरी बनाने डीएमएफ से राशि स्वीकृत की गई थी, किन्तु पूर्ण नहीं होने पर निर्माण एजेंसी के अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया। इसी तरह उन्होंने पीसीपीएनडीटी एक्ट के प्रावधानों पर चर्चा की तथा सभी विकासखंड के बीएमओ को मजिस्ट्रेट के साथ अस्पतालों के जांच के निर्देशदिये।

कलेक्टर ने कहा जीवन दीप समिति की नियमित बैठक होते रहना चाहिए। जिला अस्पताल में डीएमएफ की राशि से डायलिसिस मशीन लगाने तथा नवीन जिला चिकित्सालय भवन के लिए जगह चिंहांकित करने के संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि डीएमएफ की राशि से नवीन जिला चिकित्सालय भवन बनाने पर चर्चा चल रही है। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि राज्य स्तर की टीम से जिले में कैंसर हास्टिल बनाने तथा मेडिकल काॅलेज स्थापना के संबंध में चर्चा की जा चुकी है।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.