GLIBS

देवेन्द्र नगर सेक्टर 1 और 4 के इलाके कंटेनमेंट जोन घोषित,मेडिकल इमरजेंसी पर ही निकलने की छूट

रविशंकर शर्मा  | 03 Sep , 2020 05:40 PM
देवेन्द्र नगर सेक्टर 1 और 4 के इलाके कंटेनमेंट जोन घोषित,मेडिकल इमरजेंसी पर ही निकलने की छूट

रायपुर। देवेन्द्र नगर, सेक्टर-1 में 5 से अधिक कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के कारण संबधित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। जिला प्रशासन ने घोषित कंटेनमेंट जोन में पश्चिम में डॉ. नीरजा अग्रवाल और सोहन अदरंगी का मकान, उत्तर में कल्याण सिंह का मकान और दक्षिण में राजू चावला का मकान तक की परिसीमाएं निर्धारित की है। इसी तरह देवेन्द्र नगर, सेक्टर-4 में 5 से अधिक कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के कारण संबंधित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। जिला प्रशासन ने घोषित कंटेनमेंट जोन में पूर्व में डी. मुखर्जी का मकान ,उत्तर में होरा चौक की ओर जाने वाली पक्की रोड,दक्षिण में सेक्टर-4 का गार्डन और पश्चिम में नीरज का मकान तक की परिसीमाएं निर्धारित की है। बता दें कि, कंटेनमेंट जोन में प्रवेश या  निकास के लिए केवल एक द्वार होगा। इसमें तैनात पुलिस अधिकारी फिजिकल डिस्टेंसिग तय करते हुए मेडिकल इमरजेंसी और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए आवागमन करने वाले सभी व्यक्तियों का विवरण एक रजिस्टर में दर्ज करेगा। कंटेनमेंट जोन अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णत: बंद रहेंगें। प्रभारी अधिकारी कंटेनमेंट जोन में होम डिलीवरी के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर तय कराएंगे। आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी के लिए विधिवत परिवहन अनुमति इंसीडेंट कमांडर की ओर से दी जाएगी। कंटेनमेंट जोन अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

बता दें कि, मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारण से कंटेनमेंट जोन या मकान के बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। केवल मेडिकल इमरजेंसी की दशा में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रायपुर से पास जारी कराकर इंसीडेंट कमांडर को सूचित करना होगा। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में संलग्न व्यक्ति फिजिकल डिस्टेंसिग और सैनिटाइजेशन तय करते हुए कंटेनमेंट जोन में प्रवेश कर सकेंगें। अन्य किसी भी व्यक्ति को कंटेनमेंट जोन से बाहर निकलना या अन्दर आना पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। कंटेनमेंट जोन में उपरोक्तानुसार लॉक डाउन का कड़ाई से पालन कराने के लिए संबंधित थाना प्रभारी उत्तरदायी होंगे। कंटेनमेंट जोन में शासन की गाइडलाइन अनुसार व्यवस्था बनाए रखने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, रायपुर आवश्यक कार्यवाही तय करेंगे। जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी संबंधित क्षेत्र में शासन के निर्देशानुसार कांटेक्ट ट्रेसिंग, स्वास्थ्य निगरानी और सैम्पल की जांच इत्यादि आवश्यक व्यवस्था तय करेंगे।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.