GLIBS

दिल्ली हिंसा में मौत का आंकड़ा पहुंचा 18, अजित डोभाल को मिली हिंसा नियंत्रण की जिम्मेदारी

ग्लिब्स टीम  | 26 Feb , 2020 11:21 AM
दिल्ली हिंसा में मौत का आंकड़ा पहुंचा 18, अजित डोभाल को मिली हिंसा नियंत्रण की जिम्मेदारी

नई दिल्ली। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के बाद बुधवार को हालात सामान्य हैं। बता दें कि दिल्ली के सभी मेट्रो स्टेशन आज खोल दिए गए हैं। वहीं मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हो गई है। नागरिकता संसोधन कानून (सीएए) के विरोधियों और समर्थकों के बीच रविवार से भड़की हिंसा ने मंगलवार को उग्र रूप धारण कर लिया। सबसे ज्यादा हिंसा मौजपुर और कर्दमपुरी में हुई। यहां सीएए के विरोधी और समर्थक खुलेआम फायरिंग करते रहे।

अजित डोभाल को मिली हिंसा नियंत्रण की जिम्मेदारी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल को दिल्ली हिंसा को नियंत्रित करने की जिम्मेदारी सौंप दी गई है। वह प्रधानमंत्री और कैबिनेट को दिल्ली के हालात के बारे में जानकारी देंगे। डोभाल ने कल रात जाफराबाद, सीलमपुर और उत्तर-पूर्वी दिल्ली के अन्य इलाकों का दौरा किया था। वहां उन्होंने विभिन्न समुदायों के नेताओं से भी बातचीत की थी। डोभाल ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अब राजधानी में कानून व्यवस्था की कोई कमी नहीं होगी। पर्याप्त संख्या में पुलिस और अर्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई है। पुलिस को स्थिति नियंत्रण के लिए खुली छूट दे दी गई है। गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों में मंगलवार को फिर हिंसा भड़क गई, जहां उपद्रवियों ने पथराव किया, दुकानों में तोड़फोड़, फायरिंग और आगजनी की। कई इलाकों में हालात बेकाबू हो गए, जिसके बाद पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश दिया। 

 

ताज़ा खबरें

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.