GLIBS

कोरोना वायरस  का कहर जापानी क्रूज पर, दो और भारतीय आए चपेट में

ग्लिब्स टीम  | 16 Feb , 2020 09:23 PM
कोरोना वायरस  का कहर जापानी क्रूज पर, दो और भारतीय आए चपेट में

नई दिल्ली। जापानी तट पर अलग-थलग खड़े किए गए क्रूज जहाज पर सवार 2 और भारतीयों में भी कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। दोनों कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। जहाज में सवार लोगों का फाइनल कोरोना टेस्ट सोमवार से शुरू होने वाला है। दूसरी तरफ भारत ने इस घातक वायरस से निपटने के लिए चीन की हर संभव मदद और जल्द ही मेडिकल सप्लाइ का भरोसा दिया है। इससे पहले, रविवार को टोक्यो स्थित भारतीय दूतावास ने कहा कि फाइनल टेस्ट में नेगेटिव पाए जाने पर हर भारतीय नागरिक को सुरक्षित निकालने में वह हरसंभव मदद करेगा। डायमंड प्रिंसेज जहाज पर कुल 3,711 लोग सवार हैं। इनमें कुल 138 भारतीय हैं। भारतीयों में 132 तो क्रू मेंबर हैं जबकि 6 यात्री हैं। यह जहाज इस महीने की शुरुआत में जापानी तट पर पहुंचा था। जहाज पर सवार लोगों में कोरोना वायरस से संक्रमित होने वालों की कुल संख्या रविवार को बढ़कर 355 पहुंच गई।


भारतीय दूतावास ने बताया,'डायमंड प्रिंसेज पर पिछले दो दिनों में ही कोरोना वायरस से संक्रमण के 137 नए केस सामने आए हैं,जिनमें 2 भारतीय नागरिक भी शामिल हैं। इन्हें इलाज के लिए तट पर बने अस्पताल ले जाया गया है। 3 अन्य भारतीय क्रू मेंबर का भी इलाज चल रहा है और अब वे काफी बेहतर हैं। उन्हें न बुखार है और न ही दर्द।' भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर बताया कि जहाज पर सवार लोगों का फाइनल कोरोना वायरस टेस्ट 17 फरवरी से शुरू होगा जो कई दिनों तक चलेगा। दूतावास ने ट्वीट किया, 'हमें उम्मीद है कि हालात का डटकर मुकाबला कर रहे भारतीय नागरिक टेस्ट में नेगेटिव आएंगे,जिसके बाद उन्हें घर भेजा जा सकेगा। भारतीय दूतावास हर संभव मदद के लिए तैयार है।' इस बीच चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या रविवार को बढ़कर 1665 हो गई। अधिकारियों ने रविवार को बताया कि कोरोना से 142 और लोगों की मौत हो गई,जिनमें ज्यादातर मौतें वायरस से सबसे बुरी तरह से प्रभावित हुबेई प्रांत में हुई हैं। रविवार तक चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 68,500 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। इस वायरस के फैलने की शुरुआत पिछले साल दिसंबर में सेंट्रल चाइना के हुबेई प्रांत से हुई और अब यह भारत समेत कई देशों में फैल चुका है।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.