GLIBS

कोरोना संकट : अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा सेवा पर 15 जुलाई तक जारी रहेगा प्रतिबंध

ग्लिब्स टीम  | 27 Jun , 2020 12:08 PM
कोरोना संकट : अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा सेवा पर 15 जुलाई तक जारी रहेगा प्रतिबंध

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का प्रकोप पूरी दुनिया में जारी है। बढ़ते कोविड पॉजिटिव मामले की वजह से यातायात के साधन पर भी रोक लगा हुआ है। देश में बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार ने सभी अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा सेवा पर 15 जुलाई तक प्रतिबंध लगा बढ़ा दिया है। हालांकि इस दौरान डॉमेस्टिक एयर सर्विस जारी रहेगी। बता दें कि देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए 25 मार्च को राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लगाया गया था। तब से ही देश में अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवाएं निलंबित हैं। डायरेक्टर जनरल सिविल एविएशन की तरफ से जारी ताजा आदेश के मुताबिक कमर्शियल अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा सेवा पर प्रतिबंध 15 जुलाई तक लागू रहेगा।

हालांकि, डीजीसीए ने कहा है कि स्थितियों के अनुसार चयनित मार्गों पर कुछ अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवाओं को संचालन की अनुमति दी जा सकती है। यह प्रतिबंध कारगो ऑपरेशन (माल ढुलाई) और डीजीसीए (नागर विमानन महानिदेशालय) से अनुमति प्राप्त उड़ानों पर लागू नहीं होगा। बता दें कि, नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बीते दिनों कहा था कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को लेकर सरकार जुलाई में कोई फैसला कर सकती है। पुरी ने कहा था कि अगर कोरोना वायरस संक्रमण अनुमान के मुताबिक फैसला है और उड़ानों को संचालित करने की व्यवस्था और संबंधित देश तैयार हो जाते हैं तो सरकार जुलाई में इसे लेकर कोई फैसला करेगी।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.