GLIBS

भाजपा पार्षदों के खिलाफ कलेक्टर से शिकायत, कांग्रेस ने कठोर कार्रवाई की मांग की

संध्या सिंह  | 12 May , 2020 05:07 PM
भाजपा पार्षदों के खिलाफ कलेक्टर से शिकायत, कांग्रेस ने कठोर कार्रवाई की मांग की

दुर्ग। एक महीने से लगातार हमलावर हो रहे भाजपा के पदाधिकारियों और पार्षद दल के खिलाफ अब कांग्रेस संगठन ने आज मोर्चा खोल दिया। इसके तहत दुर्ग नगर निगम के वार्डों में राशन वितरण के लिए पैकिंग स्थल पर भाजपा नेताओं के हंगामे और भवन को सील करने पर कांग्रेस नेताओं ने जिला भाजपा अध्यक्ष, पूर्व महापौर और अन्य भाजपा पार्षदों के अलावा तहसीलदार और पुलिस चौकी प्रभारी के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की है।शहर कांग्रेस अध्यक्ष समेत नगर निगम के एमआईसी सदस्यों ने कलेक्टर के नाम सौंपे गए ज्ञापन में कहा है कि भाजपा के संगठन पदाधिकारियों ने भूखों को राशन वितरण करने के जन हितैषी कार्य में बाधा पहुंचाने का काम किया। शहर की सद्भावना बिगाड़ने के लिए हंगामा किया। शहर में लॉकडाउन और धारा 144 लागू होने के बावजूद भाजपा नेताओं ने हंगामेबाजी की।शहर कांग्रेस अध्यक्ष गया पटेल, दुर्ग नगर निगम के एमआईसी सदस्य अब्दुल गनी, दीपक साहू, कांग्रेस विधि विभाग के जिला अध्यक्ष प्रीतम देशमुख, कांग्रेस विधि विभाग के प्रदेश महामंत्री ओमप्रकाश शर्मा, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष अलताफ अहमद, राजकुमार पाली, सांस्कृतिक प्रकोष्ठ अध्यक्ष शिवाकांत तिवारी, प्रकाश गीते, सुशील भारद्वाज ने इस मामले में भाजपा के संगठन पदाधिकारियों और पार्षदों पर कार्रवाई की मांग की है।कांग्रेस नेताओं ने कलेक्टर से शिकायत में कहा है कि बिना जांच-पड़ताल के राशन पैकिंग स्थल को सील करने की एकतरफा कार्रवाई करने के मामले में तहसीलदार और पद्मनाभपुर चौकी प्रभारी पर भी कार्रवाई होना चाहिए। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण पिछले 45 दिनों से पूरा देश बंद है। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की है। इसका पूरी तरह पालन किया जा रहा है। विधायक अरूण वोरा और महापौर धीरज बाकलीवाल के नेतृत्व में निगम प्रशासन की ओर से जरूरतमंद जनता को राशन सामग्री का वितरण किया जा रहा है। भाजपा नेताओं ने किया धारा 144 का उल्लंघन, भीड़ इकट्‌ठा कर हंगामा किया।
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा रही कि प्रदेश में कोई भी भूखा न रहे। इसे सार्थक करते हुए विधायक निधि, पार्षद निधि के अलावा सामाजिक संगठनों द्वारा दिए जा रहे खाद्य सामग्री का वितरण किया जा रहा है। बिना भेदभाव लोगों को राशन सामग्री बांटी जा रही है। सोमवार को जिला भाजपा अध्यक्ष उषा टावरी, पूर्व महापौर चंद्रिका चंद्राकर, निगम के नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ने भाजपा पार्षदों की भीड़ एकत्र कर धारा 144 का उल्लंघन किया। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हुआ। राजनीति चमकाने के लिए लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए राशन सामग्री पैकिंग स्थल पर निगम कर्मियों से दुर्व्यहार करते हुए हंगामा खड़ा किया। भाजपा ने दुष्प्रचार करते हुए शहर की सद्भावना को बिगाड़ने और दुर्ग की गौरवशाली परंपरा को आघात पहुंचाने का प्रयास किया है।

 

ताज़ा खबरें

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.