GLIBS

कलेक्टर ने बैंक अधिकारियों से कहा, बैंकों में हो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

अमित कुमार  | 07 Apr , 2020 10:21 PM
कलेक्टर ने बैंक अधिकारियों से कहा, बैंकों में हो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

कोरिया। जिले के विकासखंड खड़गवां में मंगलवार को कलेक्टर डोमन सिंह ने किराना व्यवसायियों, मेडिकल स्टोर संचालक,मीट-चिकन-अंडा विक्रेताओं,एलपीजी गैस वितरक एवं बैंकर्स के साथ बैठक कर उपस्थित सभी को कोरोना वायरस के संक्रमण एवं बचाव के संबंध में राज्य शासन के विभिन्न विभागों द्वारा जारी दिशा-निर्देशों से अवगत कराया एवं इन निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने को कहा। कलेक्टर सिंह ने व्यवसायियों से सामग्री उपलब्धता, स्टॉक, विक्रय मूल्य एवं सुगम परिवहन के विषय पर चर्चा की। सभी व्यवसायियों ने बताया कि उन्हें किसी तरह की दिक्कत नहीं है, सभी सामग्री उन्हें उपलब्ध हो रही है। निर्धारित दर पर सामग्री का विक्रय किया जा रहा है। किराना, राशन एवं अन्य खाद्य सामग्री, जिन पर विक्रय मूल्य अंकित नहीं रहता है,उनका मूल्य व्यापारियों द्वारा पिछले सप्ताह निर्धारित कर प्रसारित किया गया है। परिवहन सुगम तरीके से हो रहा है। सेनिटाइजार, मास्क एवं जीवन रक्षक दवाएं उपलब्ध हैं। एलपीजी गैस का पर्याप्त स्टॉक है तथा वितरण डोर टू डोर करवाया जा रहा है।

बैठक में कलेक्टर ने उपस्थित बैंकर्स को निर्देश दिए कि वे खाताधारकों की बैंक से संबंधित सभी समस्याओं का निराकरण करें। बैंक कॉरेस्पोंडेंस को बढ़ावा दें, साथ ही बैंक में सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित करें। खाताधारकों को कतार में पर्याप्त दूरी रखते हुए खड़े होने के लिए पेंट या चूना से चिन्ह (गोला या आयत) बनवाएं, ज्यादा संख्या में ग्राहक आने पर उन्हें टोकन दें एवं भुगतान या उनका कार्य होने का अनुमानित समय बता कर सुविधाजनक स्थान में प्रतीक्षा करने को कहें। भीड़ नियंत्रण के लिए अन्य सुसंगत उपाय अपनाएं। कलेक्टर ने खड़गवां के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, प्रभारी तहसीलदार तथा सीईओ जनपद पंचायत को साप्ताहिक बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग का अनिवार्यतः पालन करवाने के लिए आवश्यक सभी उपाय करने को कहा,जिसमें मुनादी, ध्वनि विस्तारक यंत्र से प्रचार-प्रसार, दुकान लगाने तथा ग्राहक के खड़े होने का स्थान चूना से चिन्हांकित करवाने इत्यादि शामिल हैं। इसके साथ ही कलेक्टर ने बैठक में पीडीएस दुकान एवं किराना दुकानों में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.