GLIBS

सीएम ने अन्य राज्यों से लौटे मज़दूरों को निशुल्क खाद्यान देने के साथ ही उनका राशन कार्ड बनाने के दिए निर्देश

यामिनी दुबे  | 17 Jun , 2020 04:58 PM
सीएम ने अन्य राज्यों से लौटे मज़दूरों को निशुल्क खाद्यान देने के साथ ही उनका राशन कार्ड बनाने के दिए निर्देश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अन्य राज्यों से वापस आ रहे छत्तीसगढ़ के प्रवासी व्यक्तियों, श्रमिकों को निःशुल्क खाद्यान्न देने के साथ ही उनका राशन कार्ड बनाने के निर्देश दिए हैं । खाद्य विभाग की ओर से राज्य में लॉकडाउन के दौरान 23 मार्च 2020 से 15 जून 2020 तक 73 हजार 647 परिवारों के नवीन राशनकार्ड जारी किए गए हैं।लॉक डाउन के दौरान जांजगीर-चांपा जिले में अब तक 6,352 प्रवासी श्रमिकों को नए राशन कार्ड जारी किए गए हैं। इन राशनकार्डों में 19 हजार 275 सदस्यों का नाम शामिल किया गया है। प्रवासी श्रमिकों को प्रति सदस्य पांच किलो चावल और प्रति राशनकार्ड एक किलो निशुल्क चना प्रदाय किया जा रहा है। खाद्य अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के 9 विकासखंडों में 3,990 प्रवासी परिवारों के 9,777 सदस्यों के लिए कार्ड बनाए गए हैं। इसी प्रकार नगरी क्षेत्रों में 5903 प्रवासी परिवारों के 14,528 सदस्यों को जोड़कर शासन की योजना के तहत लाभान्वित किया गया है। जनपद पंचायत नवागढ़ में 503, पामगढ़ में 1,510, अकलतरा में 255, बलोदा में 504, बम्हनीडीह में 278, जैजैपुर में 314, सक्ती  181, मालखरौदा में 278 और डभरा में 167 प्रवासी परिवार के लिए राशन कार्ड बनाए गए हैं। इसी प्रकार नगरीय क्षेत्रों में नगर पालिका जांजगीर-नैला 261, चांपा में 289, सक्ती में 38, अकलतरा में 40, नगर पंचायत नया बाराद्वार में 87, बलोदा में 244, खरौद में 202, शिवरीनारायण 27, अड़भार में 88, राहौद में 78, नवागढ़ में 40, सारागांव में 198 जैजैपुर 151, चंद्रपुर में 29, और डभरा में 138 प्रवासी राशन कार्ड बनाए गए हैं।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.