GLIBS

बूढ़ातालाब की सफाई देखने पहुंचे भूपेश बघेल, कहा पूर्वजों के बनवाए प्राचीन तालाब हैं शहर की पहचान

हर्षित शर्मा  | 26 May , 2020 02:57 PM
बूढ़ातालाब की सफाई देखने पहुंचे भूपेश बघेल, कहा पूर्वजों के बनवाए प्राचीन तालाब हैं शहर की पहचान

रायपुर। राजधानी के बूढ़ातालाब की सफाई व्यवस्था देखने पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर नगर निगम की तारीफ की। भूपेश बघेल ने कहा कि बूढ़ा तालाब विवेकानंद सरोवर आने वाले समय में तेलीबांधा तालाब जैसे ही शहर के आकर्षण का केन्द्र बनेगा। साफ-सफाई के बाद अब योजनाबद्ध रूप से तालाब का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। दिन-रात मेहनत कर बूढ़ा तालाब से जलकुंभी और कचरा निकाला गया है। अब तालाब का पानी साफ दिख रहा है। उन्होंने कहा कि नगर निगम रायपुर को इसके पहले रायपुर शहर को टैंकर मुक्त शहर बनाने के निर्देश दिए गए थे, जिसमें काफी हदतक सफलता मिली है। अब शहर में टैंकरों की संख्या काफी कम हो गई है। हमारे पूर्वजों के बनवाए प्राचीन तालाब शहर की सुंदर पहचान हैं। बूढ़ा तालाब सहित शहर के अन्य तालाबों को भी सुरक्षित रखने के साथ-साथ उनकी साफ-सफाई और सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

तालाबों को साफ-सुथरा बनाए रखने के लिए जनभागीदारी जरूरी है। तालाबों के आसपास के मोहल्लों में लोगों को इसके लिए जागरूक करना होगा। तालाबों में आने वाले सीवरेज के पानी को भी रोका जाना चाहिए। बता दें कि 11 मई से 25 मई तक प्रतिदिन बूढ़ा तालाब से जलकुंभी और गाद निकालने का काम किया गया। नगर निगम के अनुसार इस काम में 11 ट्रक और सात पोकलेन मशीनें लगाई गई थी, 85 सफाई कर्मी, 30 ठेका कर्मी, 50 मछुआरों सहित विभिन्न सामाजिक संगठनों ने श्रम दान किया। अब तक बूढ़ा तालाब से लगभग 1100 डंपर से अधिक जलकुंभी और गाद बाहर निकाला जा चुका है। इस मौके पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया, विधायक सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा और विकास उपाध्याय, नगर निगम रायपुर के महापौर एजाज ढेबर, सभापति प्रमोद दुबे, मुख्य सचिव आरपी मण्डल, प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी, प्रभारी कलेक्टर और नगर निगम रायपुर के कमिश्नर सौरभ कुमार उपस्थित थे।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.