GLIBS

जिला स्तरीय वन अधिकार समिति की बैठक में प्राप्त दावों का हुआ अनुमोदन

वैभव चौधरी  | 07 Aug , 2020 07:10 PM
जिला स्तरीय वन अधिकार समिति की बैठक में प्राप्त दावों का हुआ अनुमोदन

धमतरी। कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य की अध्यक्षता में शुक्रवार को वन अधिकार मान्यता अधिनियम 2006 के क्रियान्वयन के संबंध में जिला स्तरीय वन अधिकार समिति की बैठक हुई, जिसमें वन अधिकार से संबंधित प्रकरणों को अनुमोदन के लिए प्रस्तुत किया गया। बैठक में जिले में वितरित किए गए व्यक्तिगत वन अधिकार मान्यता पत्र तथा सामुदायिक वन अधिकार मान्यता पत्र की प्रगति की जानकारी कलेक्टर ने ली। उन्होंने सामुदायिक वन पट्टे से संबंधित शासन के नवीन दिशा निर्देशों के अनुपालन के लिए संबंधित अधिकारियों को पुनः विचार-विमर्श करने के उपरांत अनुमोदन दिए जाने के निर्देश दिए। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास डाॅ.रेशमा खान ने जानकारी देते हुए बताया कि व्यक्गित वन अधिकार पट्टा की मांग के संबंध में कुल 19 हजार 317 आवेदन प्राप्त हुए,जिनमें से 12 हजार 643 पट्टे वितरित किए जा चुके हैं, जिसका रकबा 15 हजार हेक्टेयर है।

इसी तरह सामुदायिक वन अधिकार मान्यता पत्र के कुल 1378 आवेदन विभाग को मिले, जिनमें से सभी दावों का वितरण किया गया है, जिसका कुल रकबा 146689 हेक्टेयर है। इसी प्रकार सामुदायिक वन संसाधन के तहत ग्राम सभा जबर्रा को 5352 हेक्टेयर भूमि वितरित की गई है। इसी प्रकार अनुभाग स्तर से प्राप्त नए आवेदनों के बारे में जानकारी देते हुए सहायक आयुक्त ने बताया कि जिला स्तरीय वन अधिकार समिति को 4 व्यक्तिगत वन अधिकार के दावे, सामुदायिक वन संसाधन का एक दावा तथा सामुदायिक वन अधिकार के 513 दावे प्राप्त हुए, जिसका अनुमोदन समिति द्वारा बैठक में किया गया। इसके अलावा वन अधिकार मान्यता पत्र के संबंध में विभिन्न एजेण्डों पर विस्तृत चर्चा हुई। बैठक में डीएफओ अमिताभ बाजपेयी, उपनिदेशक उदंती-सीतानदी टायगर रिजर्व आयुष जैन के अलावा समिति के सदस्य मनोज साक्षी, कांति कंवर तथा कुसुमलता साहू सहित संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

 

ताज़ा खबरें

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.