GLIBS

Video : सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक खुलेंगी सभी दुकानें, कोविड प्रोटोकॉल के पालन की शर्त पर कोरबा कलेक्टर ने दी सहमति

बीएन यादव  | 06 Aug , 2020 03:00 PM
Video : सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक खुलेंगी सभी दुकानें, कोविड प्रोटोकॉल के पालन की शर्त पर कोरबा कलेक्टर ने दी सहमति

कोरबा। कोरबा जिले में आज मध्यरात्रि से लॉक डाउन शिथिल हो जाएगा। सात अगस्त से जिले के सभी नगरीय निकाय क्षेत्रों में सुबह नौ बजे से दोपहर तीन बजे तक सभी दुकानें खुलेंगी। कलेक्टर किरण कौशल ने आज चेम्बर ऑफ कॉमर्स, सब्जी विक्रेता संघ और अन्य व्यापारियों के प्रतिनिधियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक के बाद इसकी अनुमति दे दी है। दुकानों पर ग्राहकी के दौरान दुकानदार और ग्राहकों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। मास्क पहनकर और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने पर ही दुकानों से खरीददारी की अनुमति होगी। कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन होने पर प्रशासन द्वारा कार्रवाई करते हुए दुकानों को बंद करा दिया जाएगा।

इस दौरान भारत सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार बंद रहने वाली संस्थाएं जैसे- सिनेमाघर, मल्टीपलैक्स, स्कूल-कॉलेज आदि पूवार्नुसार ही नए निर्देश आने तक बंद रहेंगे। इस बैठक में चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष रामसिंह अग्रवाल सहित विभिन्न विक्रेता संघों के लगभग तीस प्रतिनिधि शामिल हुए। बैठक में अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी संजय अग्रवाल, नगर निगम आयुक्त एस जयवर्धन, अपर कलेक्टर प्रियंका महोबिया सहित अपर आयुक्त अशोक शर्मा भी शामिल हुए। कलेक्टर ने पूर्व में लागू लॉक डाउन के दौरान जिले के व्यापारियों द्वारा संयम धैर्य और अनुशासन से कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए प्रशासन का सहयोग करने पर धन्यवाद भी दिया और आगे भी इस महामारी को नियंत्रित करने में योगदान की अपील की।

बैठक में कलेक्टर ने कहा कि चेम्बर ऑफ कॉमर्स तथा व्यापारी संघो के सहयोग से प्रशासन कोरोना के बढ़ते संक्रमण की चेन को तोड़ने का प्रयास कर रहा है। अभी कुछ दिन लॉक डाउन लागू कर कोविड प्रोटाकॉल का पालन करने से हम आने वाली दीवाली के लिए अपने बाजार को तैयार कर सकेंगे। कलेक्टर ने बैठक में राशन दुकानों, सब्जी बाजारों और दवा दुकानों से कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने की संभावना व्यक्त करते हुए अतिरिक्त सावधानी बरतने की भी सलाह प्रतिनिधियों को दी। कलेक्टर ने यह भी कहा कि आने वाले दिनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की पूरी जिम्मेदारी विक्रेताओं की होगी। राशन दुकानों, मेडिकल स्टोर्स से लेकर सब्जी मार्केट तक में दुकानों के सामने दो-दो मीटर की दूरी के लिए गोल घेरे या चिन्ह बनाए जाए। इसके साथ ही सब्जी मार्केट में दो दुकानों के बीच भी कम से कम दो मीटर की दूरी सुनिश्चित की जाए। कलेक्टर कौशल ने यह भी कहा कि सब्जी दुकानों में सब्जियों को छांटने या छुकर देखने की प्रवृत्ति पर रोक लगाई जाए। व्यापारी अच्छी और ताजी सब्जियां ही बेचे ताकि लोगो को सब्जियों को छुने या छांटने की जरूरत ना पड़े।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.