GLIBS

आधार केंद्र पर करा रहे सोशल डिस्टेंस का पालन, मास्क के बिना प्रवेश निषेध

राहुल चौबे  | 26 Aug , 2020 10:41 AM
आधार केंद्र पर करा रहे सोशल डिस्टेंस का पालन, मास्क के बिना प्रवेश निषेध

रायपुर। आधार केंद्र पर कोरोना वायरस से लाभार्थियों को बचाने के लिए केंद्र द्वारा शारीरिक दूरी का पालन और भीड़ नियंत्रित करने के लिये टोकन के द्वारा प्रवेश दिया जा रहा है । केंद्र पर पहुंचने पर सुरक्षा साथी लाभार्थियों का टेंपरेचर लेकर और हाथों को सैनिटाइजर से सैनिटाइज करवाते हैं। उसके बाद ही केंद्र के अंदर प्रवेश दिया जा रहा है। क्षमता से अधिक लोग होने पर लोगों को बाहर ही रोक कर रखा जाता है और दूरी बनाएं रखने को कहा जाता है। श्याम प्लाजा स्थित आधार केंद्र के ऑपरेशन मैनेजर मोहम्मद अमीन अंसारी कहते हैं कोविड- 19 के दौर में आधार केंद्र को अब अनलॉक कर दिया गया है। नियमित रूप से लोगों का आना हो रहा है । प्रतिदिन 150 से 175 लोग आधार कार्ड के लिए आते हैं । उनकी स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा साथी के द्वारा ताप मशीन के माध्यम से उनका ताप लिया जाता है । सुरक्षा साथी उनके हाथों को सैनिटाइज करवाता है साथ ही जो साथी मास्क के बगैर आते हैं उन्हें मास्क पहनकर आने की निवेदन किया जाता है । अंदर जाने से पूर्व उन्हें शारीरिक दूरी बनाए रखने का कहा जाता है जैसे ही लाभार्थी परिसर में प्रवेश करता है उसकी आवश्यकतानुसार फॉर्म प्रदान किया जाता है । फॉर्म भर कर शारीरिक दूरी का पालन करते हुए वह अपना टोकन नंबर लेता है । टोकन नंबर के उपरांत उसके कार्य के अनुरूप जो पेमेंट लिया जाना है उसके बारे में जानकारी देकर उसे पेमेंट काउंटर पर भेज दिया जाता है एवं वहाँ पर भी शारीरिक दूरी बनाए रखने एवं मास्क लगाए रहने की हिदायत दी जाती है । 

आधार कार्ड के लिए जो प्रक्रिया की जाती है उस समय भी सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाता है जैसे फिंगरप्रिंट लेते समय मशीन को सैनिटाइज किया जाता है। साथ ही हाथों को सैनिटाइज करके ही मशीन पर फिंगरप्रिंट लिया जाता है। इसी प्रकार रेटीना मार्किंग की मशीन का भी इस्तेमाल किया जाता है । मोहम्मद अंसारी कहते हैं कि परिसर में बैठने के लिए भी गाइड लाइन के अनुसार व्यवस्था की गई है साथ ही उन्होंने कहा कि मैं उन माताओं से भी अपील करना चाहता हूं जो आधार केंद्र पर अपने काम से आ रही है तो छोटे बच्चों को साथ में ना लाएं इसके अलावा जो भी अपने आधार कार्ड के लिए आता है वह मास्क लगाकर आए, सरकार द्वारा समय-समय पर जारी की गई गाइडलाइन है का पालन करें । 

क्या कहते हैं लाभार्थी
आधार कार्ड में मोबाइल नंबर की त्रुटि सुधार के लिए आई सोनम दुबे बताती हैं कि मात्र आधे घंटे में मेरा काम हो गया टोकन मिलने के बाद मेरा दसवां नंबर था मैं अपने स्थान पर बैठी रही टोकन नंबर की आवाज दी मैं वहां गई और 5 से 10 मिनट में मेरी सारी प्रक्रिया पूरी हो गई ।

निवेदन कर करवा रहे हैं शारीरिक दूरी का पालन
बाहर एवं परिसर में एक जगह एकत्रित हो रहे लोगों को शारीरिक दूरी का पालन के लिये निवेदन किया जाता है। लोगों को भी इसके प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझना हैं। वहां ड्यूटी पर तैनात सुरक्षा साथी की बात को सुनने को लोग तैयार नहीं होते हैं तो उनको हाथ जोड़कर निवेदन भी किया जाता है और सहयोग के लिए निवेदन भी किया जाता है ।

क्या कहते हैं केंद्र के कर्मचारी
आधार केंद्र में त्रुटि सुधार के लिए नियुक्त मनीषा साहू कहती है कोरोना वायरस काल में लोगों को बर्दाश्त करने की क्षमता अपने अंदर विकसित करनी होगी । क्योंकि कोई भी प्रक्रिया एक निश्चित समय में पूर्ण होती है । हम लोग भी जब एक साथी को बुलाकर उसकी आधार की प्रक्रिया करते हैं तो उस प्रक्रिया में एक समय लगता है जब तक वह प्रक्रिया पूर्ण नहीं होगी तो हम दूसरे साथी को नहीं बुला सकते । लोग अपने टोकन का इंतजार नहीं करते हैं और बार-बार आकर पूछते रहते हैं । मेरा उन सभी  लोगों से निवेदन है कि वह कहीं भी जाएँ  तो अपने समय का इंतजार करें । 

सुरक्षा साथी अमन सिंह कहते हैं कि लोग आते हैं तो उनको लगता है कहीं मेरा काम आज नहीं हुआ तो क्या होगा जबकि सबका काम यहां हो ही जाता है । लोग अपनी बारी का इंतजार नहीं करते हैं उनको लगता है कहीं मेरा काम नहीं हुआ तो क्या होगा हम भी उनको पूरा आश्वासन देते हैं कि आपका काम आज ही पूरा हो जाएगा आप इंतजार करें हड़बड़ी ना करें भीड़ लगाने से बचें सुरक्षित रहें ।

इन वचनों का करें पालन 
वचनों का पालन कर कोरोना संक्रमण की करें रोकथाम- सतर्कता कोरोना से बचाव का बेहतर उपाय है। इसके लिए विशेष सावधानी एवं सतर्कता जरुरी है जैसे- मास्क लगाने व 2 गज की शारीरिक दूरी बनाए रखें, सार्वजनिक स्थल हो, किसी ऑफिस के कमरे में अन्य व्यक्तियों के साथ हों या फिर सर्दी, जुकाम हो तो बाहर निकलने से पहले मास्क जरूर लगाएं, छींकते या खांसने समय रूमाल या टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें, बहुत अधिक इस्तेमाल होने वाली सतहों दरवाजे के हैंडल, या ऐसी जगहों का नियमित सफाई जरूरी है, सार्वजनिक या खुले स्थानों पर नहीं थूकें, ऐसा करना दंडनीय अपराध है, बहुत जरूरी हो तभी यात्रा करें, कोवि़ड- 19 संक्रमित या उसके परिवार वालों से भेदभाव नहीं करें सहानुभूति से पेश आएं, अपने स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग करने के लिए आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल करें, कोविड-19 को लेकर होने वाली चिंताएं या मानसिक दबाव के लिए 08046110007 फ्री हेल्पलाइन नंबर पर बात कर मनोचिकित्सक से सलाह आवश्यक लें।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.