GLIBS

शामली की मस्जिद में छुपे मिले 6 बीमार, क्या ये धर्मस्थलों पर सवाल खड़ा करने की साज़िश नहीं? क्यों छुप रहे है लोग?

अनिल पुसदकर  | 07 Apr , 2020 10:50 AM
शामली की मस्जिद में छुपे मिले 6 बीमार, क्या ये धर्मस्थलों पर सवाल खड़ा करने की साज़िश नहीं? क्यों छुप रहे है लोग?

रायपुर। शामली की एक मस्जिद में छुपे 6 लोगों को बाहर निकाला गया। हैरानी की बात ये है कि छह के छह बीमार निकले। अब उनकी जांच की जाएगी उनके मस्जिद में छुपे रहने से एक बड़ा सवाल यह सामने आता है कि क्या जानबूझकर धर्मस्थलों की आड़ लेकर एक खास धर्म को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है? क्या इसमें विदेशी और अलगाववादी ताकतों का हाथ है? क्या वे नहीं चाहते कोरोना के खिलाफ जंग में सारा देश एक साथ एकजुट होकर लड़े? क्या वे ऐसे कठिन दौर में भी जात-पात का जहर बोने की साजिश रच रहे हैं? सवाल बहुत हैं, बड़े हैं और गंभीर हैं। आखिर उनके छुपने का मकसद क्या है? जब यह साबित हो चुका है कि कोरोना लाइलाज है। तेजी से फैल रहा है। तब उस रोग को छुपाने की जरूरत क्या है? उसका इलाज कराने की जरूरत क्यों महसूस नहीं की जा रही? क्यों कोरोनाग्रस्त लोगों को बचाकर छुपा कर रखा जा रहा है। 70000 लोगों से ज्यादा लोगों की जान ले चुकी इस वैश्विक महामारी से लड़ने की बजाय उसे फैलाने की कोशिश क्यों की जा रही है? समय आ गया है तमाम तुष्टिकरण की नीतियों को त्याग कर कठोर से कठोर कदम उठाने का ताकि इस तरह कोरोना से लुका छुपी का खेल पूरी तरह खत्म हो सके।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.