GLIBS

गंगरेल बांध में 53 प्रतिशत जलभराव, लगातार बारिश से छलकने लगेगा पानी  

वैभव चौधरी  | 11 Sep , 2019 03:23 PM
गंगरेल बांध में 53 प्रतिशत जलभराव, लगातार बारिश से छलकने लगेगा पानी  

धमतरी। प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश से एक ओर जहां कई जिलों के नदी नाले उफान पर हैं। वही प्रदेश के मौसम विभाग ने कई जिलों में यलो अलर्ट जारी कर भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की। इसी बीच धमतरी जिले में भी सूबे का सबसे बड़ा बांध रविशंकर जलाशय  भी बारिश से आधे से ज्यादा भर चुका है। बांध के केचमेंट एरिया में अभी भी बारिश जारी है, जिससे 34 टीएमसी वाले इस बांध में 53 प्रतिशत जलभराव हो चुका है। अगर इसी तरह दो से तीन दफा बारिश और होती है तो जल्द ही बांध पूरी तरह से भर कर छलकने लगेगा। इससे आने वाले समय में धमतरी रायपुर दुर्ग एवम् बालोद के किसानों सहित लोगों को काफी राहत मिलेगी। गंगरेल बांध में अभी वर्तमान में बांध की क्षमता का 53 प्रतिशत जलभराव हो चुका है। बांध में तकरीबन 12 हजार क्यूसेक पानी की आवक बनी हुई है तो वहीं बांध से भिलाई स्टील प्लांट को 200 क्यूसेक पानी नहर के माध्यम से दिया जा रहा है। बांध के बारे में उप अभियंता जल संसाधन विभाग से बात की तो उनका भी मानना है कि इसी तरह और बारिश होने पर गंगरेल बांध पूरी तरह से भर जाएगा। 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.