GLIBS

गर्भवती को 3 सरकारी अस्पतालों ने भर्ती करने से किया मना, बच्चे की मौत, मानवाधिकार आयोग ने दर्ज किया मामला

ग्लिब्स टीम  | 18 Sep , 2021 02:43 PM
गर्भवती को 3 सरकारी अस्पतालों ने भर्ती करने से किया मना, बच्चे की मौत, मानवाधिकार आयोग ने दर्ज किया मामला

तिरुवनंतपुरम। गर्भवती महिला को 3 सरकारी अस्पतालों में भर्ती नहीं करने पर शनिवार को केरल राज्य मानवाधिकार आयोग ने मामला दर्ज किया है। मिली जानकारी के अनुसार पड़ोसी कोल्लम जिले के कल्लुआथुक्कल की रहने वाली 8 माह की गर्भवती असहज महसूस होने पर अपने गृह जिले में इलाज के लिए दो अस्पतालों में गई थी और फिर उसके बाद श्री अवित्तम तिरुनल अस्पताल भी गई थी, लेकिन प्राधिकारियों ने उसे अस्पताल में भर्ती नहीं किया। इससे बच्चे की गर्भ में ही मौत हो गई। मानवाधिकार आयोग ने एक बयान में कहा कि उसे आखिरकार कोल्लम में सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया और उसका प्रसव कराया गया तो यह पता चला कि बच्चे की छह दिन पहले ही मौत हो गई। आयोग के सदस्य वीके बीना कुमारी ने कोल्लम जिला चिकित्सा अधिकारी से शिकायत की जांच करने को कहा। साथ ही यह जांच करने को भी कहा कि किन परिस्थितियों के तहत महिला को सरकारी अस्पताल में इलाज देने से इनकार कर दिया गया। 
 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.