GLIBS

धमतरी जिले में आज 104 संक्रमित की पहचान,77 हुए स्वस्थ

वैभव चौधरी  | 21 Oct , 2020 10:41 PM
धमतरी जिले में आज 104 संक्रमित की पहचान,77 हुए स्वस्थ

धमतरी। जिले में आज 104 कोरोना संक्रमित मरीज मिले है,जिसमें से शहर से फिर 42 मरीजों की पहचान की गई है,साथ ही 77 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। बुधवार को मिले संक्रमितों में से धमतरी ग्रामीण से 13, कुरूद ब्लाक से 18, नगरी से 16, धमतरी शहर से 42 और मगरलोड से 15 संक्रमित मिले है। जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डीके तुर्रे ने बताया कि आज धमतरी जिले से 106 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं।जिले में अब तक कोरोना मृतकों की संख्या 62 हो चुकी है।

धमतरी शहर
धमतरी शहर से 42 संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है,जिसमें सुंदरगंज वार्ड से 2, बठेनापारा से 4, मोटर स्टैंड वार्ड से 1,टिकरापारा से 1, रेलवे कॉलोनी से 1, बांसपारा आमातालाब रोड से 1, दानीटोला से 2, पुराना बस स्टैंड से 1, राइस मिल से 1, मैत्री विहार कॉलोनी से 1, अंबेडकर चौक से 2 , घड़ी चौक से 1, विंध्यवासिनी वार्ड से 2, महिमा सागर वार्ड से 1, मकेश्वर वार्ड से 1,मराठापारा से 2, सिविल लाइन से 3, सुभाष नगर से 1, सोरीद से 1, चमेली चौक के पास से 1, जालमपुर से 2, सदर दक्षिण से 3, रामबाग से 2 , आमापारा से 3 , स्टेशन रोड से 2 संक्रमित मरीज मिले हैं।

धमतरी ग्रामीण
गुजरा बीएमओ डॉ.वंदना व्यास ने बताया कि आज 13 संक्रमित मरीज मिले हैं,जिसमें देमार से 1, पचपेड़ी से 1,खहामेशरी अरौद डुबान से 1, लोहरसी से 2, कोलयारी मेन रोड से 1, गुजरा से 1, गंगरेल से 1, भाटागांव से 1, करेठा से 1, तरसीवा से 1, संबलपुर से 1, छाती से 1,संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है।

नगरी ब्लॉक
नगरी ब्लॉक के बीएमओ डॉ.डीआर ठाकुर ने बताया कि आज नगरी ब्लॉक से 16 संक्रमित मरीज मिले है,जिसमे बगरूमनाला से 1, नगरी से 5, चारगांव से 1, बेलरगांव से 3, कार्रघंटी से 3 संक्रमित मरीज मिले हैं।
जिले में अब तक मिले कुल संक्रमितों की संख्या 4093 हो चुकी है,जिसमें से एक्टिव केस की संख्या 713 है। धमतरी कोविड-19 अस्पताल में 14 और कोविड-19 केयर सेंटर कुरूद में 7 मरीजों का उपचार किया जा रहा है। वही आज 77 लोगों को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है,कुल 3318 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.