GLIBS

सनस्क्रीन बचाता है धूप की हानिकारक किरणों से, लगाते वक्त ना करें ये गलतियां

पूर्णिमा मंडल  | 08 Jul , 2019 01:17 PM
सनस्क्रीन बचाता है धूप की हानिकारक किरणों से, लगाते वक्त ना करें ये गलतियां

नई दिल्ली। यूं तो धूप में निकलने से पहले सनस्क्रीन लोशन लगाना बहुत ही जरूरी होता है, ताकि त्वचा सूरज की हानिकारक अल्ट्रा यूवी किरणों से बची रहे। मगर कई बार लड़कियां सनस्क्रीन लगाते समय भी ऐसी गलती कर बैठती हैं, जो स्किन को प्रोटेक्ट करने की बजाए उसे नुकसान पहुंचा देता है। अगर आप भी इन गलतियों को करती हैं तो स्किन को सनस्क्रीन का पूरा फायदा नहीं मिल पाएगा और फ्री रेडिकल डैमेज से चेहरे पर वक्त से पहले झुर्रियां नजर आने लगेगी। ऐसे में हर लड़की को पता होना चाहिए कि सनस्क्रीन लगाने का सही तरीका क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाए।
ना करें ये गलती
अक्सर लड़कियां बेवक्त सनस्क्रीन लोशन लगा लेती हैं लेकिन आपको इस आदत को बदलने की जरूरत है क्योंकि इसे लगाने का भी एक वक्त होता है। धूप में निकलने से तुरंत पहले सनस्क्रीन लोशन लगाने की गलती बिल्कुल ना करें। इसे हमेशा घर से निकलने के 10-15 मिनट पहले लगाएं, ताकि स्किन इसे अच्छी तरह अब्जार्ब कर सके।

स्किन के हिसाब से चुनें लोशन
यूं तो बाजार में कई तरह के सनस्क्रीन लोशन मिलते हैं। लेकिन आपको अपनी स्किन टाइप का ध्यान रखते हुए इसका चयन करना चाहिए। साथ ही एसपीएफ देखकर ही सनस्क्रीन लोशन खरीदें। एसपीएफ से आप जान सकते हैं कि वो धूप से आपकी स्किन कितनी देर बचाकर रखेगा। डर्मटॉलजिस्ट की मानें तो सन प्रोटेक्शन के लिए एसपीएफ-30 और पीए++ वाला लोशन का यूज करना चाहिए।

सांवली लड़कियों के लिए भी जरूरी
सांवली लड़कियों को लगता है कि उन्हें इसकी जरूरत नहीं है जबकि यह पूरी तरह गलत है। सनस्क्रीन रंगत को डार्क होने के लिए नहीं बचाता बल्कि यह सूरज किरणों से त्वचा को प्रोटेक्शन देता है, जो हर किसी के लिए जरूरी है।

दिन में कम से कम 2 बार करें यूज
अगर आप दिनभर घर में रहती हैं तो सिर्फ एक बार सनस्क्रीन लगा सकती हैं लेकिन अगर आप कहीं बाहर है तो कुछ घंटों बाद दोबारा इसे एप्लाई करें। इससे सनस्क्रीन का असर ज्यादा टाइम तक बना रहेगा।

गर्मी ही नहीं सर्दी में भी हैं जरूरी
महिलाओं को अक्सर यह लगता है कि सनटैन से बचने की या सनस्क्रीन लोशन लगाने की जरूरत केवल गर्मी में होती है जबकि ऐसा नहीं है। जहां गर्मियों के मौसम में सनस्क्रीन और मेकअप धूप और पसीने के साथ निकल जाता है, वहीं सर्दियों में ठंडी हवाएं चलने से मॉइस्चराइजिंग लोशन का असर जल्दी खत्म होता है। ऐसे में सनस्क्रीन का इस्तेमाल करके आप सर्दियों में भी स्किन को एक्स्ट्रा प्रोटेक्शन दें।

घर के अंदर भी फायदेमंद 
घर से बाहर निकलते समय तो सनस्क्रीन लगाने की सलाह दी ही जाती है, लेकिन एक्सपर्ट्स का मानना है कि घर के अंदर भी सनस्क्रीन लगाना फायदेमंद होता है, क्योंकि आर्टिफिशल लाइट भी त्वचा पर असर डालती है। इनमें भी कुछ मात्रा में रेडिएशन होता है। घर के भीतर भी एक बार एसपीएफ 15 तक का सनस्क्रीन लगाना चाहिए।

हल्के हाथों से लगाएं 
सनस्क्रीन को कभी अधिक रगड़कर त्वचा पर ना लगाए। इसे हल्के हाथों से मसाज करते हुए त्वचा पर एक परत की तरह लगाएं, जिससे की वो आपको सूर्य की किरणों से लंबे समय तक बचाने में मदद करेगा।

त्वचा पर सीधे ना लगाएं लोशन
कभी भी सनस्क्रीन लोशन को सीधे त्वचा पर ना लगाएं। त्वचा पर पहले मॉश्चराइजर और फिर सनस्क्रीन लगाएं। इससे सनस्क्रीन का फायदा और भी अधिक मिलेगा।

स्किन टाइप के हिसाब से चुनें 
-यदि आपकी स्किन ऑयली है तो आप ऑयल फ्री सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। आपको जैल वाला सनस्क्रीन सूट करेगा।
-अगर आपकी त्वचा रूखी है तो ग्लिसरीन और एलोवेरा युक्त सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।
-सेंसटिव स्किन के लिए आप हाइपोएलर्जिक युक्त सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें लेकि ध्यान रहें कि वो खुशबूदार ना हो। 
-सनस्क्रीन पानी के संपर्क में आते ही धुल जाता है। इसलिए आप हमेशा वाॅटर प्रूफ सनस्क्रीन ही खरीदें।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.