GLIBS

जेल में रहेगी रिया चक्रवर्ती, कोर्ट ने की जमानत याचिका अर्जी

ग्लिब्स टीम  | 11 Sep , 2020 05:08 PM
जेल में रहेगी रिया चक्रवर्ती, कोर्ट ने की जमानत याचिका अर्जी

मुंबई। सुशांत सिंह केस से जुड़े ड्रग्स मामले में जेल में बंद रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती को एक और बड़ा झटका लगा है।  जेल में बंद रिया, शौविक समेत अन्य आरोपियों की जमानत याचिका को मुंबई की एक विशेष अदालत ने खारिज कर दिया है। मुंबई की स्पेशल कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती, शौविक चक्रवर्ती, दीपेश सावंत, सैमुअल मिरांडा की जमानत अर्जी खारिज कर दी। इन सभी को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने ड्रग्स मामले में गिरफ्तार किया है। 22 सितंबर तक मुंबई के भायखला जेल में बंद रिया ने अपनी जमानत के लिए मुंबई के एक विशेष अदालत में याचिका दायर की थी, जिस पर कोर्ट ने फैसला सुनाया। इससे पहले सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग मामले में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती की जमानत याचिकाओं पर कोर्ट ने गुरुवार को सुनवाई पूरी कर ली थी और फैसला सुरक्षित रख लिया था।मुंबई की विशेष अदालत का फैसला आने के बाद रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा कि 'हम कोर्ट के आदेश की कॉपी का इंतजार कर रहे हैं, मिलने के बाद अगले हफ्ते तक इस मामले में हाईकोर्ट जाने को लेकर फैसला किया जाएगा।'


दरअसल, यह दूसरी बार है कि रिया चक्रवर्ती की जमानत याचिका खारिज हुई है। इससे पहले मजिस्ट्रेट अदालत रिया चक्रवर्ती को जमानत देने से इनकार कर चुकी है। फिलहाल, रिया चक्रवर्ती ड्रग्स केस में मुंबई की भायखला जेल में बंद हैं। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने रिया चक्रवर्ती को को मंगलवार को गिरफ्तार किया था और उसी दिन कोर्ट ने 22 सितंबर तक की न्यायिक हिरासत दे दी थी। इससे पहले मंगलवार को मजिस्ट्रेट अदालत ने रिया चक्रवर्ती को जमानत देने से इनकार कर दिया था। उसके बाद रिया ने जमानत के लिए दूसरी बार प्रयास किया है, जिस पर आज फैसला आया।रिया ने अपनी याचिका में दलील देते हुए कहा था कि एक भी महिला अधिकारी नहीं थी जो कानून के अनुसार वर्तमान आवेदक से पूछताछ करती हो। सुप्रीम कोर्ट ने शीला बर्स वर्सेज महाराष्ट्र केस में यह कहा था कि पूछताछ सिर्फ महिला पुलिस अधिकारी या कांस्टेबल की मौजूदगी में ही होनी चाहिए। रिया चक्रवर्ती ने जमानत अर्जी में सर्वोच्च अदालत की गाइडलाइन्स मानने में एजेंसी की विफलता का आरोप लगाया। साथ ही अपनी जमानत याचिका में रिया ने कहा कि वह निर्दोष है और केस में फर्जी तरीके से फंसाया गया है। हालांकि, एनसीबी का दावा है कि रिया ने ड्रग्स खरीदे थे।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.