GLIBS

एक और बाबा पर यौन शोषण का आरोप, वीडियो वायरल होते ही हुआ फरार

ग्लिब्स टीम  | 21 Aug , 2019 12:31 PM
एक और बाबा पर यौन शोषण का आरोप, वीडियो वायरल होते ही हुआ फरार

नई दिल्ली। हरियाणा के एक और बाबा के खिलाफ महिलाओं के साथ यौन शोषण और नाबालिगों के साथ कथित तौर पर बलात्कार की शिकायतें दर्ज हुई हैं। आरोपों के मुताबिक हरियाणा के गुरुग्राम में बहेडा कला गांव के बाबा ज्योतिगिरी महाराज कई महिलाओं के साथ यौन शोषण में संलिप्त पाए गए हैं और इसके खिलाफ शिकायत भी दर्ज करा दी गई है। दरअसल, बाबा ज्योतिगिरी महाराज के तमाम अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए, जिसकी वजह से पुलिस ने शिकायत दर्ज की और अब गुरुग्राम पुलिस की साइबर सेल वीडियो की जांच कर रही है। इस मामले में वीडियो फैलाने वालों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है।

वायरल हुए इन वीडियो के सामने आने के बाद तथाकथित बाबा अपने आश्रम से गायब हो गया है। इस बाबा पर आरोप है कि आश्रम में आने वाली महिलाओं और बच्चियों के साथ वह जबरन संबंध बनाता था और अब तक दर्जनों बच्चों के साथ यौन शोषण कर चुका है। इस मामले में शिकायत करने वाली एक पीड़िता है, जिसने पुलिस में शिकायत दर्ज की है। एक वीडियो भी सामने आई है, जिसमें यह बाबा बच्चियों के साथ यौन शोषण करता नजर आ रहा है। मामले के सामने आने के बाद शिकायत की एक कॉपी राष्ट्रीय महिला आयोग, हरियाणा महिला आयोग और तमाम अधिकारियों को भी भेज दी गई है। देशभर के कई जगहों पर इस बाबा के आश्रम हैं। हरियाणा में यह बाबा गोशाला भी चलाता है। इसके अलावा उज्जैन, काशी, गुरुग्राम और हरिद्वार में भी इस बाबा के आश्रम हैं, और उनसे यौन शोषण के मामले सामने आने के बाद लोगों को पता चला तो काफी लोग थाने में जाकर इस बाबा के खिलाफ एफआईआर करने की मांग करने लगे और आश्रम को भी बंद करने की मांग पर अड़ गए। हालांकि तनाव को देखते हुए आश्रम के आसपास पुलिस की चौकसी बढ़ा दी गई है।

वायरल करने वालों पर भी केस
इस मामले से जुड़े वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने वालों के खिलाफ मामला इसलिए दर्ज किया गया है क्योंकि इन वीडियो में पीड़ित महिला का भी चेहरा साफ दिख रहा है। आइटी कानून के तहत किसी अन्य माध्यम से अश्लील संदेश भेजना और आईपीसी की धारा 509 यानी, किसी महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाना इस कानून के दायरे में आता है। और उसी के तहत उन पर मामला दर्ज किया गया है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.