GLIBS

दो वर्ष से फरार गैंगरेप के इनामी आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ़्तार

दो वर्ष से फरार गैंगरेप के इनामी आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ़्तार

भोपाल। सोमवार को राजगढ़ जिले की पुलिस में पिछले 2 वर्षों से फरार चल रहे गैंगरेप के इनामी आरोपियों को पकड़ने में सफलता हासिल की है। पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद द्वारा महिलाओं पर होने वाले घटित अपराधों को रोकने तथा आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलवाने के मकसद से समस्त थाना प्रभारियों को निर्देशित किया जा चुका है तथा उसी कड़ी में थाना सारंगपुर के अपराध क्रमांक 89/16 धारा 376 354 366 भा द वि एवं 3/2/5 एससी एसटी एक्ट में 2 वर्ष से फरार 5 हजार रुपये का आरोपी त्रिलोक उर्फ सोनू  पिता भेरू लाल तथा आरोपी बद्रीलाल पिता लक्ष्मी नारायण पाल एवं बद्री लाल पाल की पत्नी वक्त घटना से फरार हो गए थे। जिनकी गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद द्वारा एसडीओपी प्रकाश मिश्रा सारंगपुर के मार्गदर्शन तथा थाना प्रभारी सारंगपुर सुनील शर्मा के नेतृत्व में टीम का गठन कर टीम के द्वारा लगातार आरोपियों की दस्ताबीके प्रयास किए गए तथा आरोपियों की धरपकड़ हेतु साइबर सेल की भी मदद ली गई थी। इस दौरान गैंगरेप का मुख्य आरोपी त्रिलोक उर्फ सोनू पिता भेरुलाल कुमार प्रजापत उम्र 25 साल निवासी मंडोरा मूलचंद नगर कॉलोनी मोहन बड़ोदिया जिला शाजापुर का देवास में होने की सूचना पर टीम द्वारा देवास में दबिश दी गई जिसे देवास से गिरफ्तार किया गया तथा आरोपियों की निशानदेही पर आरोपी बद्रीलाल पिता लक्ष्मीनारायण पाल उम्र 32 साल एवं आरोपिया बद्री लाल की पत्नी उम्र 30 साल निवासी कुपा थाना लिमा चौहान जिला राजगढ़ को ग्राम कूपा में दबिश दी जा कर पकड़ा गया पूछताछ  करने पर घटना को अंजाम देना बताया  तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया जा कर कस्बा सारंगपुर में पैदल जुलूस निकालते हुए आज विशेष न्यायालय राजगढ़ में पेश किया गया जहां से आरोपियों को जेल राजगढ़ में जुलूस निकालते हुए भेजा गया हैं।

Visitor No.