GLIBS

नगर निगम में नौकरी दिलाने बेरोजगारों से 20 लाख की ठगी, आरोपी युवक-युवती गिरफ्तार 

नगर निगम में नौकरी दिलाने बेरोजगारों से 20 लाख की ठगी, आरोपी युवक-युवती गिरफ्तार 

रायपुर। कोतवाली थाने की पुलिस ने एक युवक और युवती को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। दोनों पर बेरोजगार युवकों को नगर निगम में नौकरी दिलाने का झांसा देकर 20 लाख रुपए की ठगी करने का आरोप है। इन लोगों ने राजधानी सहित पड़ोसी जिले के आठ लड़कों को ठगी का शिकार बनाया है। मामले का खुलासा एएसपी सिटी प्रफुल्ल ठाकुर और क्राइम डीएसपी अभिषेक महेश्वरी ने किया। 

पुलिस के मुताबिक बलौदाबाजार निवासी विनोद निषाद सहित अन्य आठ लोगों ने बोरियाखुर्द निवासी प्रतिभा सेट्ठी उर्फ रुपाली (32) और बलौदाबाजार, भाटापारा निवासी भागवत साहू के खिलाफ ठगी की शिकायत दर्ज कराई है। प्रतिभा एक एनजीओ द्वारा संचालित कोचिंग सेंटर में ट्यूशन पढ़ाने का काम करती है। वहीं भागवत भी काम करता है। दोनों की पहचान कोचिंग सेंटर में हुई। बताया जा रहा है भागवत अपने क्षेत्र के बेरोजगार युवकों  को रायपुर नगर निगम कर्मचारी होना बताया। युवकों को झांसे में लेने के बाद युवक ने प्रतिभा का उन्होंने रायपुर नगर निगम के बड़े अधिकारी के रूप में परिचय कराया था। 

युवती पर प्लान बनाने का आरोप 

एएसपी सिटी प्रफुल्ल ठाकुर के मुताबिक युवती की शादी लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व हुई है। शादी के बाद गृहस्थी चलाने पैसों की कमी और रईसी जिंदगी जीने के लिए युवती ने युवक को अपने विश्वास में लिया और पूरी ठगी की स्क्रिप्ट तैयार की। इसके बाद दोनों ने मिलकर बेरोजगार युवकों को नौकरी लगाने के नाम पर फंसाने का निर्णय लिया। युवती-युवक को ठगी के 20 प्रतिशत हिस्सा कमीशन के रूप में देती थी। 

ठगी के पैसों से जमीन खरीदी 

पुलिस के मुताबिक युवती ने ठगी की रकम से हाल ही में टिकरापारा स्थित वृंदावन कालोनी में एक हजार स्केवयर फीट जमीन खरीदा। पुलिस जमीन खरीदी के बारे में जांच कर रही है। दोनों युवक -युवती बेरोजगारों से पैसों की लेन-देन निगम गार्डन में की है। नौकरी नहीं मिलने पर जब युवकों ने इन दोनों के बारे में जानकारी एकत्रित किया तब हकीकत सामने आई और ये लोग शिकायत करने थाने पहुंचे।

Visitor No.