GLIBS

Fraud Case : बसपा से टिकट दिलाने के नाम पर एक लाख की ठगी 

शुकदेव वैष्णव  | 07 Dec , 2018 09:23 PM
Fraud Case : बसपा से टिकट दिलाने के नाम पर एक लाख की ठगी 

सरायपाली। विधानसभा टिकट दिलाने का झांसा देकर महिला से एक नेता ने 1 लाख 6 हजार रुपए ऐंठ लिए। टिकट नहीं मिलने पर उक्त व्यक्ति द्वारा रकम वापिस नहीं किए जाने पर महिला ने थाने में शिकायत की है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। मामला बसना थाना अंतर्गत गांव अंकोरी का है, वहां की सफीरा बाघ ने जोगी कांग्रेस के नेता तीरथ पटेल पर यह आरोप लगाया है।

छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) की जिला अध्यक्ष सफीरा बाघ ने थाने में दिए आवेदन में बताया है कि सरायपाली विधानसभा में बहुजन समाज पार्टी से टिकट दिलवाने के लिए जनता कांग्रेस जे के चुनाव प्रभारी ग्राम दल्लीपाली निवासी तीरथ पटेल ने 1 नवंबर को फार्म भराने के नाम पर उन्हें रायपुर ले गया। यहां एक होटल में बहुजन समाज पार्टी के अशोक सिद्धार्थ से उसकी मुलाकात करवाई। 2 नवंबर को चुनाव फार्म भरने के लिए आवश्यक दस्तावेज लेकर महासमुंद आने की बात कही। इसी बीच रायपुर से वापस आते समय एक ढाबा के पास रात्रि भोजन उपरांत पटेल ने नामांकन फार्म भरने एवं बी वन दिलाने के नाम पर एक लाख छ हजार रुपए की मांग की। जिस पर बाघ ने अपने साथ मौजूद भतीजे सुधीर बाघ के हाथों से 80 हजार रुपए दिलवाया। बाकी रकम बाद में देने की बात कही।

दूसरे दिन खाता खुलवाने तीरथ पटेल ने बुलवाया तथा बाकी रकम देने के लिए दबाव बनाया। गांव के एक व्यक्ति सम्पत्ति बारीक से बाकी रकम 26 हजार रुपए लाकर उसे दिए। इसके पश्चात चुनाव फार्म भरने के लिए जब वे महासमुंद गए तब रकम लेने वाला न तो तीरथ पटेल वहां मिला और न ही उसका कोई साथी वहां मौजूद था। इसके बाद  महिला ने उक्त व्यक्ति से लगातार संपर्क कर पैसे वापस करने की मांग की लेकिन उसने  ठोस आश्वासन नहीं दिया। अब पुलिस ने मामला दर्ज कर आपसी लेन-देन बताते हुए महिला को कोर्ट की शरण लेने का सुझाव दिया है। इस संबंध में तीरथ पटेल के मोबाइल नंबर पर संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन संपर्क नहीं हो सका।