GLIBS

घर से अगवा कर युवकों ने युवती से किया दुष्कर्म, निर्वस्त्र कर टांग दिया फांसी के फंदे पर

अमित कुमार  | 13 Oct , 2019 01:56 PM
घर से अगवा कर युवकों ने युवती से किया दुष्कर्म, निर्वस्त्र कर टांग दिया फांसी के फंदे पर

बैकुंठपुर। कोरिया जिले के झगराखंड थाना क्षेत्र में आने वाले ग्राम पंचायत कोड़ा में दो युवकों ने एक युवती को उसके घर से उठाकर दूर जंगल में ले जाकर उसके साथ मारपीट की। इस दौरान एक युवक ने युवती के साथ अनाचार किया। जब युवती ने इसका विरोध किया तो इन दरिंदों द्वारा उसके साथ जमकर मारपीट की गई और फिर इन लोगों ने अपना अपराध छुपाने की नियत से युवती को निर्वस्त्र कर उसके ही कपड़े से फांसी का फंदा लगाकर पेड़ पर टांग दिया और भाग गए। फंदा कमजोर होने से वह नीचे गिर पड़ी और किसी तरह अपनी जान बचाई। इस मामले की सूचना मिलने पर झगराखंड पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है।

इधर पीड़िता का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेन्द्रगढ़ में उपचार चल रहा है। घटना के संबंध में पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कोड़ा में रहने वाले रामदास की 19 वर्षीय पुत्री अपने घर पर अकेली थी। इस बात की जानकारी लगने पर गांव के ही विनोद उरांव और सूरज पनिका ने उसके घर में घुसकर उसे जबरन अगवा कर लिया और फिर दूर जंगल में ले गए। यहां विनोद उरांव ने युवती के साथ अनाचार किया और उसके बाद अपना अपराध छुपाने की नियत से युवती का सलवार फाड़ कर उसी से फांसी का फंदा लगाकर पेड़ में टांग दिया। इस घटना को अंजाम देने के बाद दोनों युवक वहां से भाग निकले इस बीच किसी तरह युवती की फांसी का फंदा छूट गया और युवती नीचे गिर गई। रात के अंधेरे में युवती किसी तरह जंगल मे भटकटर हुए मरवाही थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले डोंगराटोला गांव पहुंची और गांव वालों को अपने साथ हुई घटना के बारे में जानकारी दी। पीड़िता की बातों को सुनने के बाद ग्रामीण तत्काल उसे लेकर उसके  गांव पहुंचे और उसके बाद झगराखंड पुलिस को इस बात की जानकारी दी गई। झगराखंड थाना प्रभारी ने इस वारदात की जानकारी पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला को दी। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर टीम बनाकर आरोपियों की तलाश शुरू की गई। इस टीम ने दोनों ही आरोपियों को हिरासत में ले लिया। फिलहाल पीड़िता का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार चल रहा है। इस बारे में पीड़िता के पिता ने बताया कि 2 वर्ष पूर्व आरोपी विनोद द्वारा उसकी बेटी से छेड़छाड़ की गई थी। इस मामले में आरोपी को 3 महीने की जेल भी हुई थी। जेल से छूट कर आने के बाद पूरे परिवार से आरोपी रंजिश रखता था। आज उसने इस वारदात को अंजाम दिया। 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.