GLIBS

Video: किराएदार ने किए मकान मालिक के घर से लाखों रुपए पार

तरूण अम्बस्ट  | 03 Jul , 2020 07:54 PM
Video: किराएदार ने किए मकान मालिक के घर से लाखों रुपए पार

अंबिकापुर। शहर के बौरी पारा में किराए के मकान में रह रहे पति पत्नी ने मकान मालिक की बेटी को खाद्य पदार्थ में नशीली दवा खिलाकर 18 लाख की चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। घटना के बाद हरकत में आई पुलिस ने आरोपी पति पत्नी को गिरफ्तार करते हुए रकम से खरीदे हुए सामानों को भी बरामद करने में सफलता प्राप्त की है। घटना के संबंध में बोरी पारा निवासी राजू प्रसाद गुप्ता ने बताया कि वह अपने बेटे को व्यवसाय खोलने के लिए अपने रिश्तेदारों से पैसे एकत्र कर करीब 18 लाख रुपए नगद घर में रखा था। 26 जून की शाम वो अपनी पत्नी के साथ इवनिंग वॉक पर घूमने गए थे। तभी किराएदार दंपति ने उनकी बेटी को खाद्य पदार्थ में नशीली दवा मिलाकर खिला दी। दंपत्ति ने घर में रखे नगद 18 लाख रुपए को चोरी कर लिए। जब मकान मालिक ने 1 जुलाई को अपने पास रखें पैसे को देखा तो नहीं थे।बेटी और परिवार वालों से पूछने पर बेटी ने 26 तारीख को अपने साथ हुए घटना बताई। तब उन्होंने मामले की शिकायत किराएदार रवि पांडे और उसकी पत्नी के खिलाफ नामजद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। इसमें पुलिस ने पूछताछ की तो आरोपिय पति पत्नी के द्वारा चोरी की घटना को अंजाम देना स्वीकार किया गया।

साथ ही उस रकम से खरीदी गई टाटा स्टोर्म वाहन को भी स्वीकार किया गया। मामले में फिलहाल पुलिस ने आरोपी दंपति को गिरफ्तार कर लिया है। इस पूरे मामले का खुलासा सरगुजा के एसपी ने बताया बोरीपारा की रहने वाली पीड़ित ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसके घर में रखे नगदी रकम करीब 18 लाख रुपए नहीं है। पीड़ित ने संदेहीयो का नाम जताते हुए बताया था कि उसके किराएदार और उसकी पत्नी घटना के बाद से अपने घर में ताला लगाकर फरार हैं। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी टीआर कोसीमा ने साइबर सेल टीम को निर्देशित किया व साइबर सेल की मदद से आरोपी के लोकेशन का पता लगाया। आरोपियों की लोकेशन ट्रेस होने के बाद पुलिस टीम को आरोपियों की पतासाजी के लिए गढ़वा रवाना किया गया। पुलिस टीम ने आरोपियों के घर दबिश देते हुए रवि पांडे और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया तथा उनकी निशानदेही पर चोरी के रकम से खरीदे हुए टाटा सफारी,फ्रिज,कूलर,टीवी,जेवरात सहित अन्य सामानों को जब्त किया। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह लोग पीड़िता को खाद्य पदार्थ में नशीली दवा खिलाकर 18 लाख की चोरी की घटना को अंजाम दिए।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.