GLIBS

दूसरे की जमीन को अपना बताकर 25 लाख में बेचा, धोखाधड़ी का मामला दर्ज 

राहुल चौबे  | 16 Sep , 2020 04:01 PM
दूसरे की जमीन को अपना बताकर 25 लाख में बेचा, धोखाधड़ी का मामला दर्ज 

रायपुर। दूसरे की जमीन को अपना बताकर 25 लाख रुपए लेकर बेचने की रिपोर्ट सिविल लाइन थाने में दर्ज की गई है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार 6/27, कृष्णा कुंज, सेंट्रल बैंक  ऑफ इंडिया के बाजू, रायपुर निवासी महावीर प्रसाद गुप्ता ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि 6 महीनें पहले अपनी पत्नी के साथ दिल्ली स्थित अपने मकान गया हुआ था। वहां रजोरी गार्डन, शिवाजी इन्क्वेव के पास, स्थित शिव मंदिर में जान-पहचान पवन मलहोत्रा एवं कविता मलहोत्रा से हुई। इसके बाद आरोपी दिल्ली स्थित अपने मकान बी-6, सरस्वती गार्डन, न्यू दिल्ली 110015 में लेकर गये थे। बातों बातों में उन्होंने बताया कि उनकी मलहोत्रा मोटर्स, केएमएस फाईनिलिस लिमिटेड नाम से  ए-203, न्यू मोती नगर, अपोजिट करमपुरा बस टर्मिनल न्यू दिल्ली है। 2 महीनें पहले दोनों पति पत्नी सिविल लाइन, रायपुर आए व बोले कि हम फाईनेनसिंयल प्रालबम में है कहकर अपनी जमीन का कागजात दिखाया व विश्वास दिलाया कि इन्होंने इस प्रापर्टी को  84,00,000 में खरीदा है।

इस प्रापर्टी को आप ले लीजिए व अभी तत्काल में केवल 25,00,000 रुपये की आवश्यकता है। बतौर एडवांस ही दे दीजिए बाकी पैसा रजिस्ट्री के समय दे दीजिएगा। पीड़ित अपनी पत्नी से सलाह करके पूरे परिवार से पैसा लेकर जैसे तैसे इन पति पत्नी (पवन एवं कविता मलहोत्रा) को 25,00,000 रुपये नगद दे फरवरी माह में प्रापर्टी देखने 4/28 कीर्ति नगर, इंडस्ट्रीयल एरिया, नजफ गड रोड, न्यू दिल्ली गए तो पता चला कि इस प्रापर्टी पर किसी और का कब्जा है एवं वह प्रापर्टी डिस्पुट में है। तब आस पास के लोगों से पता चला कि पवन एवं कविता मलहोत्रा ने मिलकर इस प्रापर्टी को कई लोगों को बेचा हुआ है। कई लोगों को धोखाधड़ी कर इस रजिस्ट्री के तहत ठगा हुआ है। तब हमें बहुत बड़ा सदमा लगा व पता चला कि प्रापर्टी की रजिस्ट्री दिखाकर हमारे साथ इन दोनों ने मिलकर धोखा किया है। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 34,420 के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.