GLIBS

Video : मिर्ची व नाबालिग बच्चों की आड़ में तस्करी, 40 लाख के गांजा समेत 6 आरोपी गिरफ्तार

Video : मिर्ची व नाबालिग बच्चों की आड़ में तस्करी, 40 लाख के गांजा समेत 6 आरोपी गिरफ्तार

महासमुन्द। बागबाहरा पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए तीन वाहनों से 4 क्विंटल गांजा बरामद कर 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गांजे की कीमत 40 लाख बताई जा रही है। पुलिस की आंखों में धूप झोंकने गांजा तस्कर नाबालिग बालकों रुपए का लालच देकर गांजा तस्करी कर रहे थे। गिरफ्तार 6 आरोपियों में दो नाबालिग है। तस्करों का मास्टर माइंड पहले डकैती की मामले में उड़ीसा में गिरफ्तार हो चुका है। शनिवार को पुलिस कंट्रोल रूम में पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्भूरकर, बागबाहरा एसडीओपी लितेश सिंह ने बताया कि बीती रात बागबाहरा पुलिस नेशनल हाईवे 353 और 53 में नाकाबंदी कर वाहनों की तलाशी ले रहे थे। इसी दौरान एक नीले कलर की बोलेरो वाहन ओडी 02 एएम आ रही थी,जिसे पुलिस ने रोक कर तलाशी ली गई। वाहन की डिक्की से 10 पैकेट 50 किलो गांजा पाया गया। वाहन में कैलाश चेटी के साथ एक नाबालिग सवार था। बागबाहरा के कंटेनमेंट जोन के पास एक टाटा टीयागो ओडी 10 एन 7574 से पुलिस जांच में 10 पैकेट में 50 किलो गांजा बरामद किया, साथ ही वाहन में सवार रंजन खोरा पिता लक्ष्मण खोरा 25 साल बारनीपुर कोरापुट उड़ीसा और एक नाबालिग को गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा पुलिस ने एक मिर्ची से भरी पिकअप वाहन की तलाशी ली,जिसमें 3 क्विंटल गांजा मिला और वाहन में सवार संतोष दौरा पिता नकुल दौरा 24 साल बारनीपुट थाना जयपुर जिला कोसपुट ओडिसा, जयसिंग पिता जगबंधु बाघ 25 को गिरफ्तार किया गया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उपरोक्त तीनों वाहन में गांजा भर कर सतना, रीवा भेजने वाला गिरफ्तार आरोपी संतोष दौर है,जो पुलिस की आंखों में धूल झोंकने के लिए वाहन में मिर्ची के साथ गांजा भर रखा था। साथ ही पुलिस को उस पर शंका ना हो कर उसने अपने वाहन और अन्य वाहनों में नाबालिग बालकों को रुपए का लालच देकर तस्करी करता रहा है। इस मामले में भी उसकी उसकी यही मंशी थी लेकिन जिला पुलिस ने गांजा तस्करी करने वाला संतोष दौरा और उसके अन्य 6 साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने पुलिस को जानकारी दी है कि वह यह खेप उड़ीसा से रायपुर लेकर जा रहे थे,जहां उन्हें दूसरी पार्टी सतना की मिलती, जिन्हें यह खेप देकर वापस वह लौट जाते। गिरफ्तार दोनों नाबालिगों ने पुलिस को जानकारी दी है कि एक ट्रिप में आने से उन्हें 4 से 5 हजार रुपए संतोष दौरा द्वारा दिया जाता रहा है। गिरफ्तार आरोपी इस तरह का काम पहले भी कर चुके हैं। बहरहाल पुलिस ने मामले में अन्य और शामिल लोगों की तलाश में लगी हुई है और इसके लिए अन्य राज्यों के पुलिस से आरोपियों के साथियों की जानकारी मांगी गई है। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों से 4 क्विंटल गांजा, जिसकी कीमत 40 लाख, 3 वाहन 15 लाख और 3 मोबाइल सहित अन्य सामान आरोपियों से बरामद किया है। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ 20 ख, 29 एनडीपीएस के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.