GLIBS

शाहरुख खान का साथी राहुल गांजा तस्करी में ओडिशा से गिरफ्तार, कई राज्यों में कर चुका मादक पदार्थ सप्लाई

सुभाष रतनपाल  | 31 Jan , 2021 05:45 PM
शाहरुख खान का साथी राहुल गांजा तस्करी में ओडिशा से गिरफ्तार, कई राज्यों में कर चुका मादक पदार्थ सप्लाई

जगदलपुर। गांजा तस्करी का आरोपी शाहरुख खान पिता युसूफ खान उम्र 28 वर्ष,जो कि   थाना सुसनेर जिला आगरमालवा (मध्य प्रदेश) का निवासी है के द्वारा ट्रक क्रमांक आरजे 17 जीए 2679 में अवैध रूप से मादक पदार्थ गांजा की तस्करी करते पकड़ाया। इसके कब्जे से  84 किलोग्राम अवैध मादक पदार्थ जब्त किया। आरोपी के खिलाफ अपराध क्रमांक 128/ 2020 धारा 20 (ख) एनडीपीएस एक्ट कायम कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया। आरोपी से पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह ओडिसा से जो व्यक्ति गांजा देता था उसका नाम सुबाष मेहर उर्फ राहुल निवासी कोरापुट है,जिससे गांजा खरीद कर लाता था।
प्रकरण में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक झा,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओपी शर्मा के दिशा निर्देश एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी भानपुरी उदयन बेहार के पर्यवेक्षण में गांजा तस्करों पर कार्यवाही करने के दिशा निर्देश प्राप्त होने पर थाना प्रभारी बस्तर सुरेंद्र बघेल के नेतृत्व में टीम गठित कर ओडिसा के कोरापुट भेजा गया। यहां आरोपी सुबाष मेहर उर्फ राहुल पिता तिरंगा मेहर उम्र 26 वर्ष निवासी ग्राम पटनागढ़ थाना पटनागढ़ जिला बलांगीर ओडिसा की लगातार तलाशी अभियान और साइबर सेल जगदलपुर के सहयोग से घेराबंदी कर अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई। उसने गांजा सप्लाई करना स्वीकार किया। राहुल ने बताया कि वह पिछले डेढ़ साल से गांजा सप्लाई कर रहा है। मध्यप्रदेश ,दिल्ली ,रांची झारखंड कि ग्राहकों को अब तक 2000 किलोग्राम से ज्यादा का गांजा सप्लाई कर चुका है।

आंध्र प्रदेश, ओडिसा की सीमा के जंगलों से गांजा लाकर ग्राहकों को बेचता था। आरोपी का कोरापुट में ऑटो पार्ट्स की दुकान है आरोपी द्वारा ग्राहकों को ऑटो या पिकअप के माध्यम से गांजा उपलब्ध कराकर वाहन में लोडिंग करता था। कई बार स्वयं बैग में गांजा रखकर बस अथवा ट्रेन के माध्यम से ग्राहकों तक पहुंचाता था।
आरोपी सुबाष मेहर उर्फ राहुल का अपराध स्वीकार करने एवं प्रकरण में संलिप्तता होने व पर्याप्त साक्ष्य सबूत पाए जाने से रविवार को गिरफ्तार किया। उसे न्यायिक रिमांड पर न्यायालय जगदलपुर पेश किया गया। कार्यवाही में निरीक्षक सुरेंद्र बघेल ,प्रधान आरक्षक छगनलाल डहरिया, आरक्षक विद्याचरण सोनवानी का मुख्य भूमिका रही।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.