GLIBS

पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी, अवैध संबंध थी वारदात की वजह

पुलिस ने सुलझाई अंधे कत्ल की गुत्थी, अवैध संबंध थी वारदात की वजह

सूरजपुर। 3 दिसम्बर को ग्राम कमलपुर के सरपंच कौशल सिंह ने थाना सूरजपुर में सूचना दी थी कि सामतबहरी एनएच 43 खेत किनारे एक टेम्पो में व्यक्ति मरा पड़ा है। सूचना पर कोतवाली पुलिस तत्काल मौके पर रवाना हुई। घटना स्थल पर पुलिस ने देखा कि बिना नंबर का टेम्पो खेत में उल्टा पड़ा और स्टेरिंग सीट में अज्ञात व्यक्ति मरा पड़ा है। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर राजेश कुकरेजा, एएसपी हरीश राठौर, सीएसपी जेपी भारतेन्दु, एफएसएल वरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी कुलदीप कुजूर, फिंगर प्रिन्ट विशेषज्ञ डीएसपी लिनोश किस्पोट्टा एवं ट्रेकर डाग स्क्वार्ड की टीम भी मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण किया। पुलिस के द्वारा शव पंचनामा कार्यवाही के दौरान मृतक के जेब से ड्राइविंग लाइसेंस एवं घटना स्थल से एक विजिटिंग कार्ड मिला। ड्राइविंग लाइसेंस की फोटो से मृतक की पहचान हुई कि वह सुभाषनगर चरचा, जिला कोरिया निवासी 31 वर्षीय तनवीर अहमद अंसारी है। मृतक के शव पंचनामा की कार्यवाही के बाद शव को पीएम के लिए जिला चिकित्सालय भेजते हुए मर्ग कायम कर जांच में लिया। घटना स्थल निरीक्षण, जांच पंचनामा कार्यवाही एवं डाॅक्टर के द्वारा दिए गए शार्ट पीएम रिपोर्ट में मृतक की मृत्यु हत्यात्मक होना लेख किए जाने पर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध अपराध क्रमांक 469/19 धारा 302, 201 भादवि के तहत् मामला पंजीबद्ध करते हुए विवेचना में लिया। घटना स्थल पर पाए गए परिस्थितिजन्य साक्ष्य एवं मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने कोतवाली प्रभारी को मामले से जुड़े सभी बिन्दुओं पर बारीकी से जांच कर जल्द मामले का खुलासा करते हुए आरोपी को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।

कोतवाली पुलिस मौके से पाए गए विजिटिंग कार्ड के आधार पर जिला कोरिया के चरचा पहुंची और महफूज आलम से घटना के संबंध में पूछताछ की। इसमें यह तथ्य आया कि इसका रिश्ते का भांजा अमानत खान एक लगेज लेकर बस से सूरजपुर के लिए निकला है। उसी सामान को लेने के लिए मृतक तनवीर अहमद 2 दिसंबर की शाम सूरजपुर के लिए निकला था। मृतक की पत्नी महफूज आलम पर दबाव बनाती थी कि उसके पति तनवीर से छुटकारा दिलाए और उसे अपने साथ रखे। महफूज एवं मृतक की पत्नी अपने संबंधों को बनाए रखने के लिए मृतक को रास्ते से हटाने की योजना 1 माह पूर्व से बनाई थी। योजना के अनुसार 2 दिसम्बर के रात्रि एनएच 43 ग्राम कमलपुर,जो जिला सूरजपुर व कोरिया का बार्डर है वहां मृतक तनवीर को रोककर महफूज आलम एवं उसका मुहबोला भांजा अमानत खान के द्वारा अपने साथ लाए हुए हथौड़े से तनवीर को चेहरे एवं सीने पर प्राणघातक हमला किए। इससे तनवीर की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद दोनों ने टेम्पो के ड्राईवर सीट पर शव को डालकर हत्या की वारदात को एक्सीडेंट का स्वरूप देने के लिए सड़क के किनारे पलटा दिए। पुलिस ने आरोपी महफूज आलम के निशानदेही पर एक लोहे का हथौड़ा, मृतक के पत्नी का मोबाइल जब्त किया। वारदात के वक्त दोनों आरोपियों के द्वारा पहने हुए कपड़े को भी जब्त किया। जांच में इस बात की भी पुष्टि हुई कि आरोपी महफूज के द्वारा वारदात में प्रयुक्त हथौड़ा को बैकुण्ठपुर से खरीदा था। पुलिस ने प्रकरण में आरोपी महफूज आलम उम्र 36 वर्ष निवासी सुभाषनगर, थाना चरचा, जिला कोरिया, अमानत खान उम्र 28 वर्ष  थाना गढ़वा, जिला गढ़वा झारखण्ड एवं महिला के विरूद्व अपराध सबूत पाए जाने पर गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.