GLIBS

पिथौरा टीआई पर लूट के आरोपी ने किया जानलेवा हमला, 8 खिलाफ मामला दर्ज

पिथौरा टीआई पर लूट के आरोपी ने किया जानलेवा हमला, 8 खिलाफ मामला दर्ज

महासमुन्द। लूटपाट के आरोपी और उसके परिवार ने मिलकर पिथौरा थाना प्रभारी कमला पुसाम और उनकी टीम पर जानलेवा हमला कर दिया। आरोपियों के हमले से पिथौरा टीआई सहित जवानों को चोट आई है। पिथौरा पुलिस ने गोपाल पांडे,चंद्रकांत पांडे,शैल पांडे व अन्य 4 के खिलाफ 294, 506, 323, 188, 186, 353, 216, 224, 225, 147, 148 व एससी, एसटी की धारा 3 (1) द,ध, आर्म एक्ट की धारा 25,27 तहत मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है।
पुलिस से प्राप्त जानकारी अनुुसार रविवार को पिथौरा थाना प्रभारी कमला पुसाम अपनी टीम के साथ गोपाल पांडे नामक आरोपी को उसके घर गिरफ्तार करने निकली हुई थी। आरोपी अपने घर के सामने पिथौरा बस स्टैण्ड पर ही पुलिस को मिल गया। पुलिस जैसे ही आरोपी को पकडऩे गई वह भागने का प्रयास करने लगा।

आरोपी का घर बस स्टैण्ड के पास ही है। पुलिस द्वारा आरोपी को पकड़ते देख गोपाल पांडे का पिता और भाई व अन्य 8 लोग पुलिस पर लाठी डंडा, राड, चापड़ लेकर पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। पुलिस पर हमले के वक्त पुलिस की संख्या आरोपियों की संख्या से कम थी। इसका फायदा उठाते हुए गोपाल पांडे और उसके परिवार ने पिथौरा टीआई कमला पुसाम पर हमला कर दिया,जिस वजह से उनके हाथों पैर में चोटे आई है। पुलिस के जवानों पर भी लाठी और राड़ से हमला किया गया,जिससे पुलिस के जवान भी घायल हो गये।पुलिस ने बताया है कि कल आरोपी गोपाल पांडे पर लूटपाट का मामला पिथौरा पुलिस ने दर्ज किया था। इस मामले में रविवार को मुखबिर से सूचना मिली थी कि आरोपी गोपाल पांडे अपने घर में है और पुलिस उसे गिरफ्तार करने पहुंची थी। बताया जा रहा है कि आरोपी आदतन अपराधी है और उस पर जिला बदर की भी कार्रवाई हो चुकी है। टीआई कमला पुसाम के पिथौरा पदस्थापना के बाद से आरोपी गोपाल पांडे के सभी काले कारनामे बंद हो गये थे।

गौरतलब है कि पूरे जिले में कमला पुसाम अपने कामों के नाम से जानी जाती है। जब से वह पिथौरा थाने में पदस्थ हुई है अपराधियों को सबक सिखाना शुरू किया था,जिसमें जमीन दलाल. शराब कारोबारी और मजदूर दलालों पर लगातार उनके द्वारा कार्रवाई की जाती रही है। पूरे जिले में लेडी सिंघम के नाम से प्रसिध्द है। महिला थानेदार पर हमले के बाद से आदिवासी समाज के लोगों में भारी आक्रोश देखा जा रहा है। घटना के बाद पिथौरा सर्व आदिवासी समाज ने गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू को पत्र लिखकर आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। पिथौरा थाने की थानेदार कमला पुसाम आदिवासी समाज से है। बहरहाल पिथौरा पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश कर रही है

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.