GLIBS

135 किलो वजनी आईएसआईएस आतंकी को स्वाट टीम ने किया गिरफ्तार, ऐसे ले गए जेल  

ग्लिब्स टीम  | 20 Jan , 2020 12:05 PM
135 किलो वजनी आईएसआईएस आतंकी को स्वाट टीम ने किया गिरफ्तार, ऐसे ले गए जेल  

नई दिल्ली। इराक की स्वाट टीम को मोसुल शहर में एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। यहां आईएसआईएस के ठिकाने पर छापे के दौरान टीम ने शिफा अल निमा नाम के एक बड़े आतंकी को गिरफ्तार किया। उसका वजन इतना ज्यादा था कि वह पुलिस की कार में फिट नहीं आ रहा था, इसलिए टीम को उसे ट्रक में डालकर जेल ले जाना पड़ा। इस आतंकी का वजन 135 किलो बताया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब उसे गिरफ्तार किया गया तो वह अपने भारी वजन के कारण बिस्तर से उठ नहीं पा रहा था। आईएसआईएस के आतंकी इसे 'जब्बा द जेहादी' कहकर बुलाते हैं।  

इसे मुफ्ती अबु अब्दुल बारी के नाम से भी जाना जाता है। इराकी सुरक्षा अधिकारियों ने एक बयान में कहा कि यह आतंकी 'सुरक्षा बलों के खिलाफ भड़काऊ भाषण' देने के लिए जाना जाता था और इसे आईएसआईएस गिरोह के शीर्ष नेताओं में से एक माना जाता है। बयान में कहा गया है कि शिफा अल निमा ने कई फतवे जारी किए थे और उन मौलवियों को फांसी देने का आदेश दिया था, जिन्होंने आईएसआईएस में शामिल होने से इनकार कर दिया था, जब इस आतंकवादी समूह ने मोसुल शहर पर कब्जा कर लिया था।

ब्रिटिश कार्यकर्ता माजिद नवाज के मुताबिक, शिफा अल निमा का काम अपने भाषणों के जरिए आतंकियों को तैयार करना भी था। वह लोगों के दिमाग में जहर घोलने का काम करता था। अब इस आतंकी का पकड़ा जाना इराकी सेना के लिए एक बड़ी कामयाबी, जबकि आईएसआईएस के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है, क्योंकि ऐसा माना जा रहा था कि बगदादी की मौत के बाद यह आतंकी संगठन शिफा अल निमा जैसे बड़े आतंकियों की बदौलत फिर से खड़ा हो सकता है। 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.