GLIBS

छापा पड़ते ही लाखों के नोट में लगा दी आग और बाथरुम में कर दिया फ्लश

ग्लिब्स टीम  | 18 Nov , 2019 04:23 PM
छापा पड़ते ही लाखों के नोट में लगा दी आग और बाथरुम में कर दिया फ्लश

पटना। सोमवार को पटना में विजिलेंस के हत्थे चढ़े इंजीनियर ने सबूतों को छिपाने के उद्देश्य से नोटों के बंडल तक में आग लगवा दी। कटिहार में पोस्टेड इस इंजीनियर के घर जैसे ही विजिलेंस की टीम ने दबिश दी तो पहले इस इंजीनियर ने हेकड़ी दिखाई लेकिन विजिलेंस की टीम के आगे उसकी एक न चली। पटना के अंबेडकर पथ के हरिचरण अपार्टमेंट में विजिलेंस की ये कार्रवाई अभी भी चल रही है। सोमवार की सुबह हुई विजिलेंस की इस कार्रवाई के बारे में कहा जा रहा है कि पथ निर्माण विभाग के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर ने 83 लाख रुपए घूस मांगे थे जिसकी पहली खेप के तौर पर 16 लाख रुपए वो ले रहा था। विजिलेंस जिस दौरान एक्जीक्यूटिव इंजीनियर के घर में छापेमारी कर रही थी उसी दौरान घर में आग लगने की भनक टीम को मिली। जब विजिलेंस टीम ने दौड़ कर बाथरुम में देखा तो वहां जले हुए नोट मिले साथ ही कुछ नोट को राख करने के बाद उसे फ्लश कर दिया गया था।

विजिलेंस की कार्रवाई के दौरान नोटों की गड्डी में आग लगाने का काम एक्जीक्यूटिव इंजीनियर के परिवार वालों ने किया और नोटों से भरे कई थैले को पलक झपकते ही बाथरुम ले जाकर आग लगा दिया। कहा जा रहा है कि विजिलेंस को सूबत न मिल सके इसलिए नोटों और कई दस्तावेजों को राख करने के बाद दूसरी मंजिल स्थित कमोड में फ्लश कर दिया गया। निगरानी की टीम ने जहां इंजीनियर को अपनी कस्टडी में लिया है वहीं आग लगाने वाले परिवार के लोगों से से सख्ती से पूछताछ कर रही है। पटना में इंजीनियर अरविंद कुमार अपने परिवार के साथ रहते हैं। विजिलेंस के एएसपी मनोज कुमार ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है और फिलहाल छापेमारी पटना में ही चल रही है। नोट जलाने की घटना के बारे में उन्होंने कहा कि प्रथम दृ्ष्टया ऐसा ही प्रतीत हो रहा है कि दस्तावेज और नोट में आग लगाई गई है लेकिन फिलहाल ये जांच का विषय है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.