GLIBS

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, 3.6 करोड़ कर्मचारियों को होगा सीधा फायदा

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, 3.6 करोड़ कर्मचारियों को होगा सीधा फायदा

नई दिल्ली । मोदी सरकार ने अपना दूसरा कार्यकाल संभालने के बाद करोड़ों कर्मचारियों बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए कर्मचारी राज्य बीमा निगम के स्वास्थ्य बीमा कार्यक्रम में एम्पलायर और एम्पलाई के कुल अंशदान को 6.5 प्रतिशत से घटाकर 4 प्रतिशत करने का फैसला किया है। इससे 12.85 लाख नियोक्ताओं को हर साल 5,000 करोड़ रुपये की बचत होगी। साथ ही इससे 3.6 करोड़ कर्मचारियों को फायदा होगा। श्रम मंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार घटी हुई दरें 1 जुलाई से प्रभावी होंगी।

साढ़े तीन करोड़ों कर्मचारियों को होगा फायदा
मंत्रालय ने विज्ञप्ति में कहा है, 'सरकार ने ईएसआई कानून के अंतर्गत एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए अंशदान की दर 6.5 प्रतिशत से घटाकर 4 प्रतिशत (नियोक्ता का अंशदान 4.75 प्रतिशत से घटाकर 3.25 प्रतिशत और कर्मचारी का अंशदान 1.75 प्रतिशत से घटाकर 0.75 प्रतिशत) करने का फैसला किया है.' करीब 12.85 लाख नियोक्ताओं और 3.6 करोड़ कर्मचारियों ने वित्त वर्ष 2018-19 में ईएसआई योजना में 22,279 करोड़ रुपये का अंशदान किया।

कंपनियों की सालाना 5,000 करोड़ की बचत होगी
ऐसे में आकलन किया जाए तो यह बात निकलकर समझ में आती है कि अंशदान की दर में कमी से इन कंपनियों को सालाना कम-से-कम 5,000 करोड़ रुपये की बचत होगी। विज्ञप्ति में कहा गया है कि अंशदान की घटी हुई दर से कामगारों को बहुत राहत मिलेगी तथा इससे और अधिक कामगारों को ईएसआई योजना के अंतर्गत नामांकित कर पाना तथा ज्यादा से ज्यादा श्रमिक बल को औपचारिक क्षेत्र के अंतर्गत लाना सुगम हो सकेगा।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.