GLIBS

कौन है वो शख्स जिसे अजीम प्रेमजी ने सौंप दी 1.76 लाख करोड़ की कंपनी

कौन है वो शख्स जिसे अजीम प्रेमजी ने सौंप दी 1.76 लाख करोड़ की कंपनी

नई दिल्ली। दिग्गज आईटी कंपनियों में शामिल विप्रो के मालिक अजीम प्रेमजी ने रिटायरमेंट की घोषणा कर दी है। अजीम प्रेमजी विप्रो के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन व प्रबंध निदेशक पद से 30 जुलाई 2019 को रिटायर हो जाएंगे। अजीम प्रेमजी के रिटायरमेंट के बाद उनके बेटे रिशद प्रेमजी अगले 5 सालों के लिए इस पद को संभालेंगे। यानी बेटे के हाथ में कंपनी की कमान होगी। रिशद प्रेमजी 31 जुलाई से पदभार संभालेंगे। 

रिशद की पहचान सिर्फ अपने पिता अजीम प्रेमजी की वजह से नहीं है, उन्होंने बतौर कारोबारी खुद अपनी पहचान भी बनाई है। साल 2007 में  रिशद विप्रो से जुड़े थे। यहां रिशद ने इन्वेस्टर रिलेशन और कॉरपोरेट अफेयर्स से जुड़े काम शुरू किया। विप्रो में काम शुरू करने से पहले वो बेव कंपनी लंदन में काम करते थे। उन्होंने जीई कैपिटल के साथ भी काम किया है। रिशद विप्रो की तरफ से चलाए जा रहे सामाजिक और शिक्षा से जुड़े कामों को भी देखते रहे हैं। अजीम प्रेमजी के बेटे रिशद प्रेमजी ने हावर्ड बिजनेस स्कूल से एमबीए और अमेरिका के वेस्लेयन यूनिवर्सिटी से इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन की पढ़ाई की है। इसके साथ ही रिशद ने लंदन के स्कूल आॅफ इकोनॉमिक्?स से भी स्पेशल कोर्स किया है। साल 2014 में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने रिशद को यंग ग्लोबल लीडर के तौर पर सम्मानित किया था। रिशद आईटी कंपनियों के संगठन नैस्कॉम के चेयरमैन भी रहे हैं।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.