GLIBS

Share Market : सेंसेक्स ने 760 तो निफ्टी ने लगाया 225 अंकों का गोता

आर पी सिंह  | 11 Oct , 2018 05:34 PM
Share Market : सेंसेक्स ने 760 तो निफ्टी ने लगाया 225 अंकों का गोता

मुंबई। अंतरराष्ट्रीय शेयर बाजार में आई गिरावट का असर गुरुवार  को भारतीय शेयर बाजार पर देखने को मिला। घरेलू बाजार का प्रमुख सूचकांक ने कारोबार शुरू होने के कुछ देर बाद ही 1000 अंकों का गोता लगाया। इससे बाजार में हाहाकार मच गया। इसी के भय से पूरे दिन बाजार लाल निशान पर कारोबार करता रहा। कमजोर वैश्विक संकेतों ने रुपये की गिरावट का दायरा भी बढ़ा दिया।  विदेशी निवेशकों ने हड़बड़ाहट में जमकर चौतरफा बिकवाली की।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों का सूचकांक सेंसेक्स 760 अंक यानी 2.19% की गिरावट के साथ 34,001.15 गिरकर बंद हुआ। वहीं, नैशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों का सूचकांक निफ्टी में भी 225.45 अंक यानी 2.16% कमजोर होकर 10,234.65 पर कारोबार खत्म हुआ। 

बाजार बंद होने तक सेंसेक्स के 31 शेयरों में 28 शेयरों के भाव कम हो गए जबकि निफ्टी के 50 शेयरों में 41 शेयरों में कारोबार कमजोरी के साथ बंद हुआ।

इन शेयर्स में देखी गई गिरावट:

गुरुवार को सेंसेक्स पर सबसे ज्यादा टूटनेवाले शेयरों में एसबीआई (5.74%), टाटा स्टील (4.60%), वेदांता (4.45%), महिंद्रा ऐंड महिंद्रा (4.44%), इन्फोसिस (3.61%) और अडानी पोर्ट्स (3.31%) जैसे शेयर शामिल रहे। वहीं, निफ्टी पर इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनैंश (9.12%), बजाज फाइनैंश सर्विसेज (6.20%), एसबीआई (6.08%), टाटा स्टील (4.99%), हिंडाल्को (4.63%) आदि शेयरों में सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई।

कैसे मचा बाजार में हाहाकार:

इससे पहले, गुरुवार को सेंसेक्स और निफ्टी, दोनों 2 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट के साथ खुले। हालांकि, थोड़ी ही देर में सेंसेक्स की गिरावट और बढ़ गई और आंकड़ा 1000 अंक को पार कर गया। वहीं, निफ्टी भी 307अंकों कमजोर हो गया। हालत ऐसी थी कि सेंसेक्स के 31 में 30 शेयर जबकि निफ्टी के 50 में से 45 शेयर लाल निशान में थे।

क्या हैं इतनी बड़ी गिरावट का कारण:

बाजार में आज की गिरावट की बड़ी वजहों में ब्याज दर बढ़ाने की फेडरल रिजर्व की योजना की अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की आलोचना के बाद वैश्विक बाजारों में गिरावट देखी गई। एशियाई शेयरों में गिरावट का असर भी भारतीय बाजारों पर पड़ा। वहीं, रुपया भी गुरुवार को नए निचला स्तर पर चला गया।

इन शेयर्स में दिखी बिकवाली:

कारोबारी सत्र के दौरान, एनएसई पर केवल तीन कंपनियों के शेयरों ने अपने 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर हासिल किया। इसके उलट 247 कंपनियों के शेयर अपने 52 सप्ताह के न्यूनतम स्तर तक भी फिसले।

निफ्टी50 इंडेक्स पर केवल नौ शेयर हरे, जबकि 41 शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए। बीएसई पर 828 शेयरों ने मजबूती के साथ और 1,761 शेयरों ने कमजोरी के साथ कारोबार का अंत किया।