GLIBS

Share Market: दलाल स्ट्रीट में शेयर्स हुए हलाल, मचा हाहाकार 

आर पी सिंह  | 11 Oct , 2018 11:20 AM
Share Market: दलाल स्ट्रीट में शेयर्स हुए हलाल, मचा हाहाकार 

मुंबई । गुरुवार को अल सुबह दलाल स्ट्रीट हरे रंग पर बंद हुए शेयर हलाल होने शुरू हो गए इससे वहां कोहराम मच गया। आलम ये रहा कि 5 मिनट में ही  निवेशकों के 4 लाख करोड़ रुपए स्वाहा हो गए।

शुुरू होते  ही मचा हाहाकार:

कारोबार की शुरुआत में सेंसेक्स 975.13 अंक यानि 2.81 फीसदी गिरकर 33,785.76 पर और निफ्टी 290.30 अंक यानि 2.78 फीसदी गिरकर 10,169.80 पर खुला।

दरअसल, 697.07 की गिरावट के साथ खुलने के तुरंत बाद सेंसेक्स ने 1000 अंक का गोता लगा दिया। वहीं, निफ्टी में भी 290.3 अंक की गिरावट के साथ 10,169.80 पर कारोबार की शुरूआत हुई। आंकड़ों से पता चलता है कि शुरूआती कारोबार में बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैपिटलाइजेशन या मार्केट कैप (बाजार पूंजीकरण) 134.38 लाख करोड़ रुपये घट गए। बुधवार को इन कंपनियों का कुल मार्केट कैप 1 करोड़ 38 लाख 39 हजार 750 करोड़ रुपये था। ध्यान रहे कि 30 अगस्त को इन कंपनियों का मार्केट कैप 1 करोड़ 59 लाख 34 हजार 696 करोड़ के सर्वकालिक स्तर पर पहुंच गया था।

स्मॉल-मिडकैप शेयरों में गिरावट :

आज के कारोबार में दिग्गज शेयरों के साथ स्मॉलकैप और मिडकैप शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 1.12 फीसदी गिरकर और मिडकैप इंडेक्स 1.85 फीसदी गिरकर कारोबार कर रहा है।

बैंकिंग शेयरों में दिखी गिरावट:

सेक्टोरल इंडेक्स की अगर बात करें तो बैंक, मेटल, आॅटो शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है। निफ्टी के आॅटो इंडेक्स में 2.93 फीसदी, बैंक निफ्टी 3.08 फीसदी, मेटल इंडेक्स में 3.42 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।

क्यों हुआ ऐसा:

दरअसल, एशियाई देशों के शेयर बाजारों में गिरावट ने भारतीय बाजारों को भी प्रभावित किया। अमेरिकी शेयरों में रातोंरात गिरावट के कारण गुरुवार को एशियाई शेयर 5 प्रतिशत तक टूट गए। भारतीय बाजारों में बुधवार की बढ़त के बावजूद टेक्निकल चार्ट्स में भी बेरुखी का आलम ही दिख रहा था।

अंतरराष्ट्रीय बाजारों का हाल:

एशियाई बाजारों में ताइवान का प्रमुख सूचकांक 5.21 प्रतिशत कमजोर हो गया। वहीं, जापान का निक्केई भी 3.7 प्रतिशत, कोरिया का कोस्पी 2.9 प्रतिशत और शंघाई कंपोजिट 2.4 प्रतिशत टूट गए। बुधवार को एस एंड पी 00 3.29 प्रतिशत, नैस्डैक कंपोजिट इंडेक्स 4.08 प्रतिशत जबकि डॉ जोन्स इंडस्ट्रियल ऐवरेज 2.2 प्रतिशत कमजोर हो गए।

Visitor No.